उन्नाव गैंगरेप : सीबीआई ने कोर्ट में दर्ज कराया पीड़िता का बयान, भाजपा विधायक का नार्को टेस्ट संभव

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

उन्नाव : उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म मामले की जांच कर रही सीबीआई ने सोमवार को पीड़ित लड़की को लेकर लखनऊ कोर्ट में धारा 164 के तहत बयान दर्ज कराने पहुंची. जज ने बंद कमरे में लड़की का बयान लिया है. जिसको पूरी तरह से गोपनीयरखा गया है. वहीं जानकारी के मुताबिक इस मामले में आरोपीभाजपा विधायक का नार्को टेस्ट भी कराया जा सकता है.

उधर, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीड़ित परिवार का आरोप है किभाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने जानबूझकर परिवार को कोर्ट तक जाने से रोका है, ताकि पीड़िता के उम्र से संबंधित दस्तावेज कोर्ट में जमा नहीं कराया जा सके. परिवार का यह भी दावा है कि उनके पास पीड़िता की उम्र के संबंध में पुख्ता दस्तावेज हैंऔर वो उसे कोर्ट में पेश करना चाहते हैं. वहीं,रिपोर्ट के अनुसार सीबीआई सूत्रों के मुताबिकबतायागया है कि भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने अभी तक अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इन्कार किया है. उन्होंने कहा है कि जिस दिनदुष्कर्म की बात पीड़िता ने कही है, उस दिन वे उन्नाव में नहीं थे. उन्होंने सीबीआई को अपनी प्रोग्राम डायरी भी दी है.

जानकारी के मुताबिक, कुलदीप सिंह सेंगर ने अपने क्षेत्र के लोगों को संदेश भिजवाया है कि आरोप लगने के पीरियड के दौरान वो जिस-जिस प्रोग्राम में गये हो, उनकी फोटो और कार्यक्रमों के सबूत मुहैया कराएं, जिससे कि उन पर लगे आरोपों की सच्चाई सिद्ध हो सके. वहीं मामले की जांच में जुटी सीबीआई कुलदीप सिंह सेंगर को अब उन्नाव ले जायेगी. सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई आरोपीभाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का नार्को टेस्ट भी करा सकती है. हालांकि, अभी तक कोर्ट में इसके लिए कोई अर्जी नहीं दी गयी है. वहीं शुरुआती जांच में सीबीआई को माखी पुलिस और उन्नाव एसपी की लापरवाही के पुख्ता सबूत मिले हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें