1. home Home
  2. state
  3. up
  4. gorakhpur
  5. gorakhpur youth killed by stabbing police findings criminals abk

Gorakhpur News: CM योगी के गोरखपुर में अपराधी बेखौफ, अब युवक की चाकू से गोदकर हत्या

अंकुर शुक्ला के भाई राहुल शुक्ला ने बताया कि 14 जून की रात उनके घर में चोरी के इरादे से कुछ लोग घुसे थे. जिसके बाद घरवालों ने एक चोर को पकड़ लिया था. चोर उनके मोहल्ले के ही निकले. चोरों ने रंजिश में गुरुवार को राहुल शुक्ला के भाई अंकुर शुक्ला की चाकू से गोदकर निर्मम हत्या कर दी.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
CM योगी के गोरखपुर में अपराधी बेखौफ
CM योगी के गोरखपुर में अपराधी बेखौफ
प्रभात खबर ग्राफिक्स

Gorakhpur News: कुछ महीने पहले गोरखपुर के रामगढ़ताल थाना क्षेत्र में कानपुर के बिजनेसमैन मनीष गुप्ता केस की हत्या पर खूब हंगामा किया था. इस घटना के बाद दोषी पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्रवाई की गई. उस समय लगा था कि यह इलाका शांत हो जाएगा. वहीं, एक और सनसनीखेज मामले ने पुलिस पर सवाल उठाए हैं. 17 साल के एक युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई.

अंकुर शुक्ला (17) की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई. पुलिस से इसकी सूचना पर अपनी जांच शुरू कर दी है. अंकुर शुक्ला के भाई राहुल शुक्ला ने बताया कि 14 जून की रात उनके घर में चोरी के इरादे से कुछ लोग घुसे थे. जिसके बाद घरवालों ने एक चोर को पकड़ लिया था. चोर उनके मोहल्ले के ही निकले. इसके बाद घरवालों ने उनसे माफी मंगवाकर मामला रफा-दफा करवा दिया. चोरों ने रंजिश में गुरुवार को राहुल शुक्ला के भाई अंकुर शुक्ला की चाकू से गोदकर निर्मम हत्या कर दी.

गोरखपुर के रामगढ़ताल थाना क्षेत्र के अंतर्गत भगत चौराहे के पास 17 साल का अंकुर शुक्ला बुरी तरीके से जख्मी पड़ा था. अंकुर के घायल होने की सूचना अच्छेलाल नामक व्यक्ति ने परिवार को दी. परिवारवाले मौके पर पहुंचे और आनन-फानन में अंकुर को जिला अस्पताल लेकर गए. जहां पर डॉक्टरों ने अंकुर को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

अंकुर के भाई राहुल ने रामगढ़ताल थाने पर तहरीर दी है. उसमें जिक्र है 24 नवंबर की दोपहर 2 बजे अंकुर को धर्मेंद्र साहनी नामक व्यक्ति के घर के बगल में मारकर फेंक दिया गया था. रामपुर गांव के कुछ युवकों ने उनके भाई अंकुर शुक्ला की चाकू से गोदकर हत्या कर दी है. इसमें अवधेश, लक्ष्मी, जयहिंद, और मनीष कट्टा नामक युवक शामिल हैं. तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

(रिपोर्ट:- अभिषेक पांडेय, गोरखपुर)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें