1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. educated unemployed of saranda stay away from naxalite activities special initiative of kolhan administration will get training for employment smj

सारंडा के शिक्षित बेरोजगार नक्सली गतिविधियों से रहें दूर, कोल्हान प्रशासन की विशेष पहल, रोजगार के लिए मिलेगा प्रशिक्षण

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोल्हान प्रशासन की पहल पर सारंडा के ग्रामीणों के साथ संवाद करते SDPO, थाना प्रभारी, मुखिया व अन्य.
कोल्हान प्रशासन की पहल पर सारंडा के ग्रामीणों के साथ संवाद करते SDPO, थाना प्रभारी, मुखिया व अन्य.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (किरीबुरू, पश्चिमी सिंहभूम) : कोल्हान DIG, DC एवं SP के प्रयास से सारंडा के नक्सल प्रभावित सुदूरवर्ती गांव के शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार मिले इसके लिए समय-समय पर प्रशिक्षण दिये जाने की व्यवस्था होगी. शिक्षित बेराेजगारों को तीन श्रेणी (स्नातक, मैट्रिक तथा नन मैट्रिक) में बांट कर उनकी सूची बनाकर उन युवकों को रोजगार के लिए प्रशिक्षण दिला कर रोजगार से जोड़ना व गांवों का विकास कराना पुलिस-प्रशासन का लक्ष्य है. इस बात की जानकाररी मेघाहातुबुरु सामुदायिक भवन में आयोजित सारंडा के ग्रामीणों के साथ विशेष बैठक में SDPO अजीत कुमार कुजूर ने कही.

SDPO श्री कुजूर ने कहा कि मैट्रिक पास युवकों को पारा मिलिट्री, पुलिस आदि में नौकरी के लिए प्रशिक्षण, वाहन ड्राइविंग का प्रशिक्षण एवं प्रमाण पत्र दिलाने, नन मैट्रिक युवकों को कुशल मजदूर से संबंधित प्रशिक्षण दिलाकर जैसे-जैसे अवसर आता जायेगा उन्हें रोजगार व नौकरी दिलाने की योजना जिला पुलिस-प्रशासन की है. इसके लिए ग्रामीण ऐसे युवाओं की सूची बनाकर उपलब्ध करायें.

उन्होंने कहा कि समाज ने जब हमें बहुत कुछ दिया है और सहयोग करते आ रही है तब हमारा भी फर्ज बनता है कि हम समाज के विकास व रोजगार के लिए कुछ करें. पुलिस-प्रशासन जितनी त्वरित गति के साथ ग्रामीणों के लिए काम कर रही है उसी तरह आप भी हमारा सहयोग करते रहें.

श्री कुजूर ने कहा कि सारंडा के युवा शक्ति व ग्रामीण गलत रास्ते पर किसी भी परिस्थिति में नहीं भटकें क्योंकि नक्सली समाज, देश व कानून के विरोधी हैं. ग्रामीणों से आग्रह करते हुए कि वह अपने गांवों से जुड़ी सामूहिक समस्याओं जैसे पेयजल, आवागमन, चबूतरा, चिकित्सा, शिक्षा आदि का सूची बनाकर तथा ग्रामसभा से पास कराकर हमारे पास भेजें, ताकि उसका समाधान कराया जा सके. साथ ही ग्रामीणों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देते हुए कोरोना वैक्सीन हर हाल में लेने का आग्रह किया.

ग्रामीणों ने सारंडा के थोलकोबाद, करमपदा व कुमडीह क्षेत्र में अलग-अलग तीन एंबुलेंस की सुविधा, यातायात, शिक्षा, चिकित्सा, पेयजल आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कराने की मांग उठायी. ग्रामीणों ने थोलकोबाद का आवासीय विद्यालय व छोटानागरा का समर्थ आवासीय विद्यालय को दोबारा मनोहरपुर से पूर्व के स्थानों पर संचालित कराने, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व प्रज्ञा केंद्र सारंडा के थोलकोबाद में स्थापित करने आदि की मांग रखी.

इस मौके पर थाना प्रभारी अशोक कुमार, एसआई धनंजय कुमार, किरीबुरु पश्चिम की मुखिया पार्वती किडो, मेघाहातुबुरु दक्षिण की मुखिया रेवती तिरिया, मेघाहातुबुरु उत्तरी के मुखिया प्रभु सहाय भेंगरा, सोनु सिरका, वीर सिंह मुंडा, पीसी मांझी, कार्लूस मुंडारी (मुंडा, चेरवालोर), जय मसीह हेम्ब्रम (मुंडा, कुलातुपु), हरुण बारला (मुंडा, चालिस, मरीदा), जय मसीह मुंडू (मुंडा, बालेहातु), सलील होरो (मुंडा, लोहराबेड़ा), चैतन पूर्ति (मुंडा, रोगड़ा), बुधुवा हस्सा पूर्ति (डकुवा, मर्चिगड़ा), सुनील नाग, जुनास भेंगरा, अगस्तिन के अलावे धर्नादिरी, टोपकोय, जंबईबुरु, कलैता आदि गांव के ग्रामीण मौजूद थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें