1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. sahibgunj
  5. cyclone yaas 2021 jharkhand rain havoc life affected of flood affected people of barharwa block in sahibganj relief work continues deputy commissioner gave these assurances grj

चक्रवाती तूफान Yaas की बारिश का कहर, साहिबगंज के बरहरवा के बाढ़ प्रभावितों के बीच राहत-बचाव कार्य जारी, उपायुक्त ने दिया ये आश्वासन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारी बारिश के बाद स्थिति का जायजा लेते उपायुक्त रामनिवास यादव
भारी बारिश के बाद स्थिति का जायजा लेते उपायुक्त रामनिवास यादव
प्रभात खबर

Jharkhand News, साहिबगंज न्यूज : झारखंड के साहिबगंज जिले में चक्रवातीय तूफान यास के कारण हुई भारी वर्षा से जल जमाव की स्थिति बनी हुई है. उपायुक्त रामनिवास यादव ने बरहरवा प्रखंड के कई इलाकों का निरीक्षण किया. इस दौरान बाढ़ प्रभावितों से मुलाकात की और उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया. उपायुक्त के निर्देशानुसार बरहरवा प्रखंड के बाढ़ ग्रसित इलाकों में जिला प्रशासन द्वारा सूखा राशन भी वितरित किया गया. पाकुड़ बरहरवा NH पर भीमपादा के पास गुमानी नदी का पानी पंहुच गया है. इससे 20 गांवों के लोगों का जनजीवन प्रभावित हुआ है. जान जोखिम में डालकर लोग सड़क पार कर रहे हैं.

बरहरवा प्रखंड के श्रीकुण्ड एवं निचले इलाकों में भारी वर्षा से कई लोग बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. इस संबंध में उपायुक्त श्री यादव ने अनुमंडल पदाधिकारी राजमहल हरिवंश पंडित, प्रखंड विकास पदाधिकारी बरहरवा समीर अल्फ्रेड मुर्मू के साथ स्थल का दौरा किया एवं हालात का जायजा लिया. इस क्रम में उन्होंने ग्रामीणों से बातचीत की एवं उन्हें आश्वासन भी दिया. उपायुक्त ने लोगों से कहा कि जिला प्रशासन द्वारा बाढ़ की चपेट में आए लोगों की हर संभव मदद की जाएगी. उपायुक्त रामनिवास यादव के निर्देशानुसार बरहरवा प्रखंड के बाढ़ ग्रसित इलाकों में जिला प्रशासन द्वारा सूखा राशन भी वितरित किया गया. उपायुक्त ने कहा है कि तूफान के कारण हुई वर्षा से जहां भी जान-माल की क्षति हुई है. सरकार के निर्देशानुसार उन्हें तत्काल राहत पहुंचायी जाएगी.

याश चक्रवाती तूफान से बरहरवा प्रखंड क्षेत्र के करीब 20 गांव प्रभावित हुए हैं. इन गांवों में गुमानी नदी का पानी घुस गया है. जलस्तर पाकुड़ बरहरवा NH के भीमपाड़ा मुख्य पथ तक पहुंच गया है. लोग अपनी जान जोखिम में डालकर सड़क पार कर रहे हैं. स्थानीय लोगों के अनुसार जब भी तेज बारिश होती है तो उसके बाद पहाड़ का पानी नीचे उतरता है. जो बरहरवा प्रखंड के निचले इलाकों में दो तीन दिनों तक रहता है. इस पानी के कारण करीब 1000 परिवार प्रभावित है. कई लोगों के घरों में पानी घुस गया है, तो कुछ के कच्चे मकान भी गिर गए है. प्रशासन की ओर से राहत बचाव कार्य किया जा रहा है. प्रभावित लोगों को ऊंचे स्थानों पर पहुंचाने के लिए बरहरवा सीओ अपने कर्मियों के साथ क्षेत्र में घूमकर प्रभावित लोगों के बीच सूखा राशन दे रहे हैं.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें