फॉक्सवैगन चाकन कारखाने में लगाएगी डीजल इंजन असेंबलिंग इकाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मुंबई. जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फॉक्सवैगन ने पुणे के चाकन संयंत्र में मंगलवार को 240 करोड़ रुपये के निवेश से डीजल इंजन असेंबलिंग व परीक्षण इकाई स्थापित करने करने की घोषणा की. कंपनी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि यह डीजल इंजन असेंबलिंग इकाई साल के अंत तक चालू हो जायेगी. इसमें हर वर्ष 98,000 इंजन तैयार किये जा सकेंगे. कंपनी ने कहा है, कि इंजन को पूरी तरह से देश में ही बनाया जायेगा. 1500 सीसी क्षमतावाले टीडीआइ डीजल इंजन को पूरी तरह से भारतीय दशाओं के अनुरूप बनाया गया है. कंपनी ने हाल में पोलो की पेशकश के समय इसका अनावरण किया था. कंपनी ने कहा है कि पुणे (चाकन) संयंत्र में इस पूर्ण और अत्याधुनिक इंजन परिक्षण सुविधा की स्थापना भारतीय बाजार के प्रति कंपनी की प्रतिबद्धता को और सशक्त करने की दिशा में अगला महत्वपूर्ण कदम है. भारत में फॉक्सवैगन समूह के मुख्य प्रतिनिधि व फॉक्सवैगन इंडिया के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक महेश कोडुमुडी ने कहा, 'इस निवेश के साथ हमने विनिर्माण में स्थानीयकरण बढ़ाने की दिशा में बडी छलांग लगायी है.' कंपनी ने हाल में ही कहा था कि वह अगले पांच साल के दौरान एक डीजल इंजन की स्थापना के लिए 1,500 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना बना रही है. नयी डीजल इंजन असंेबलिंग खाता 3,450 वर्ग मीटर में फैला होगा. इसमें तैयार इंजन पोलो और पोलो जीटी टीडीआइ कारों में लगाये जायेंगे.फोर्ड ने इकोस्पोर्ट्स के एक लाख मॉडल बिक्री का आंकड़ा छुआनयी दिल्ली. फोर्ड इंडिया ने मंगलवार को कहा कि उसकी स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल्स (एसयूवी) इकोस्पोर्ट्स ने घरेलू व निर्यात बाजार में मंगलवार को एक लाख की बिक्री का आंकड़ा पार कर लिया. कंपनी ने पिछले साल इस मॉडल को पेश किया था. तब से अभी तक कंपनी ने घरेलू बाजार में इस मॉडल की 60,000 वाहन बेचे हैं. कंपनी के कार्यकारी निदेशक (बिक्री व विपणन) विनय पिपरसानिया ने बयान में कहा, 'एक लाख बिक्री का आंकड़ा छूना कंपनी के लिए विशेष है. यह कंपनी के वाहनों के प्रति लोगों के भरोसे को भी प्रदर्शित करता है.'
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें