1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. 2 day strike started against privatization of banks business of 70 crores affected in kaderma smj

बैंकों के निजीकरण के खिलाफ दो दिवसीय हड़ताल शुरू, काेडरमा में 70 करोड़ का कारोबार हुआ प्रभावित

बैंक के दो दिवसीय बंद का असर कोडरमा में देखने को मिला. गुरुवार को 70 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ. बैंक बंदी को लेकर बैंक कर्मियों ने रैली निकाली और धरना दिया.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: बैंकों के निजीकरण के खिलाफ बैंक कर्मियों ने दिया धरना.
Jharkhand news: बैंकों के निजीकरण के खिलाफ बैंक कर्मियों ने दिया धरना.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: बैंकों के निजीकरण के खिलाफ दो दिवसीय देशव्यापी बैंक हड़ताल का असर कोडरमा जिले में भी देखने को मिला. हड़ताल के पहले दिन जहां बैंकों में ताले लटके रहे, वहीं ग्राहक इस एटीएम से उस एटीएम तक की दौड़ लगाते दिखे. विरोध प्रदर्शन में शामिल पदाधिकारी- कर्मियों ने निजी बैंकों के साथ-साथ सीएसपी को भी बंद करा दिया. ऐसे में लोगों को परेशानी उठानी पड़ी. प्रदर्शन कर रहे कर्मियों ने रैली निकाली और बैंक के बाहर धरना दिया. हड़ताल के पहले दिन करीब 70 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ. जिले के विभिन्न बैंकों की 62 शाखाओं में कामकाज पूरी तरह ठप रहा.

जानकारी के अनुसार, हड़ताल के पहले दिन झुमरीतिलैया के बैंक ऑफ इंडिया के पास कर्मी जुटे और केंद्र सरकार के विरोध में नारेबाजी की. इस दैारान बैंक इम्पालइज फेडरेशन ऑफ इंडिया के संगठन सचिव शिवशंकर वर्णवाल व अफसर एसोसिएशन के शिवकुमार पासवान ने कहा कि केंद्र सरकार बैंकों का निजीकरण कर देशहित व आम जनता के साथ अच्छा व्यवहार नहीं कर रही है.

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के आह्वान पर बैंकों के निजीकरण, बैंकिंग कानून में संशोधन और प्रतिकूल दिशा में ले जानेवाले बैंकिंग में सुधार की मांग को लेकर हडताल की गयी है. बैंककर्मियों ने धरना-प्रदर्शन के दौरान आवाज दो हम एक हैं, जनविरोधी बैंक नियम वापस लो, दुनिया के मजदूर एक थे और एक रहेंगे, वित्त मंत्री होश में आओ होश में आओ, उज्जवल भविष्य हमारा है, तानाशाही नहीं चलेगी जैसे नारे लगाए. बाद में बीओआई से एक रैली निकाली गयी जो भारतीय स्टेट बैंक होते हुए विभिन्न निजी बैंकों की तरफ गयी और निजी बैंकों को बंद कराया गया.

एलडीएम महेश प्रसाद ने बताया कि हडताल की वजह से पहले दिन करीब 70 करोड का व्यवसाय प्रभावित हुआ. धरना प्रदर्शन में अमरदीप केशरी, अजीत चैरसिया, मनीष कुमार वर्णवाल, उपासना कुमारी, पी मागेश्वरी, मेघा रानी, अभिषेक कुमार, संदीप कुमार, प्रेम चैधरी, रविन्द्र चैधरी, किशोर रवानी, राजु सिंह, संजय यादव, प्रमोद कुमार चैधरी, मुकेश कुमार, संट्रेल बैंक के नवीन कुमार, सुरज मुर्म, एसबीआई के खुबी लाल, अनिल कुमार, संतोष सोनी, अनामिका अग्रवाल, विमला लकड़ा आदि शामिल थे.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें