दिनभर दवा-सूई के लिए भटकते रहे मरीज

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जामताड़ा : सिविल सर्जन डॉ अंबिका मंडल के तानाशाह रवैये के विरोध में अराजपत्रित कर्मचारी संघ के बैनर तले सोमवार से जिला के सभी स्वास्थ्य कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गये.
जिस कारण पूरे जिले में चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गई है. ग्रामीण क्षेत्र का अस्पताल हो या फिर जिला मुख्यालय का, सभी जगह हड़ताल का व्यापक असर देखा गया. अन्य दिनों की तरह मरीज अस्पताल इलाज कराने के लिए आये लेकिन बिना इलाज कराये उन्हें वापस जाना पड़ा. यही नहीं जो मरीज पूर्व से अस्पताल में भरती थे, वे भी बिना इलाज और दवा के बेड पर पड़े हुए हैं. उनकी सूधि लेने वाला कोई नहीं था.
घुमते नजर आये डॉक्टर व कर्मी
सदर अस्पताल के वार्डों तथा लैबों का सुबह से ताला ही नहीं खुला. सिविल सर्जन कार्यालय में भी ताला लगा रहा. जिस कारण एसीएमओ डॉ बीके साहा सहित अन्य पदाधिकारी कार्यालय के बाहर घुमते देखे गये.
धरना-प्रदर्शन में सीएस विरोधी लगे नारे
वहीं दूसरी ओर अराजपत्रित कर्मचारी संघ के बैनर तले जिले भर से आये कर्मचारियों ने सिविल सर्जन कार्यालय के सामने सुबह से ही धरना-प्रदर्शन किया. वे लोग सिविल सर्जन तानाशाह, कर्मचारियों पर अत्याचार नहीं चलेगा, सिविल सर्जन की मनमानी नहीं चलेगी सहित कई अन्य प्रकार का नारा लगा रहे थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें