1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. a dozen animals are stranded in gaushala of harli village for 10 days there is no way to get out

हरली गांव के गौशाला में 10 दिन से फंसे हैं एक दर्जन जानवर, निकलने का नहीं मिल रहा रास्ता

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : बड़कागांव के हरली गांव में पिछले 10 दिनों से गौशाला में फंसे हैं एक दर्जन गाय और बैल.
Jharkhand News : बड़कागांव के हरली गांव में पिछले 10 दिनों से गौशाला में फंसे हैं एक दर्जन गाय और बैल.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Hazaribagh news : बड़कागांव (हजारीबाग) : हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव थाना क्षेत्र के हरली गांव के किसान विनोद महतो पिता छात्रधारी महतो के 12 गाय, बैल और भैंस पिछले 31 जुलाई, 2020 से गौशाला में फंसे हैं. रास्ता बंद कर दिये जाने के कारण 12 गाय, बैल और भैंस गौशाला में कैद है. अगर इस पर ध्यान नहीं दिया गया, तो चारा के अभाव में 12 गाय, बैल और भैंस भुखमरी के कगार पर पहुंच सकते हैं. इस संबंध में विनोद महतो बड़कागांव थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है.

पुलिस की पहल पर कई बार पंचायत भी हुई है, लेकिन अब तक मामला नहीं सुलझा हुआ है. दिये गये आवेदन में बताया गया है कि विनोद महतो का गौशाला गुही बागी में काफी समय से चल रहा है. आवागमन के लिए रास्ता भी पुराना है. इस रास्ते से विनोद महतो, विमल महतो, धनेश्वर महतो, कैला महतो, सुरेश महतो, मुरली महतो समेत अन्य लोग कई वर्षों से आना-जाना करते थे. लेकिन, 4 जुलाई को बाबू लाल महतो, पारस नाथ महतो, नागो महतो, रामदासी महतो, कीर्तन महतो, गोपाल महतो, अशोक महतो, नागेंद्र महतो, बसंत महतो, कृष्णा महतो, धनेश्वर महतो, देवनाथ महतो, मिथिलेश कुमार, विकास कुमार और वीरेंद्र महतो द्वारा रास्ते में ही दीवार खड़ा करने के लिए गड्ढा खोदा जा रहा था.

गड्ढा खोदे जाने पर इनलोगों से रास्ते को लेकर बातचीत कर समझौता करने का प्रयास किया गया. लेकिन, दूसरे पक्ष के लोगों ने इसे नहीं माना और अभद्र व्यवहार किया. मामला सुलझता नहीं देख इस मामले को निपटारा करने के लिए बड़कागांव थाना में आवेदन दिया गया. पुलिस द्वारा 6 जुलाई को पंचायत के माध्यम से समझौता करने का प्रयास किया गया, लेकिन रास्ते में दीवार देने के लिए गड्ढा खोदने वाले लोगों ने पंचायत की बात नहीं मानी और 6 फिट दीवार दे दिया.

इस संबंध में 31 जुलाई को बड़कागांव थाना में दोबारा आवेदन दिया गया. इस मामले को सुलझाने के लिए पंचायत समिति सदस्य उपेंद्र महतो और अन्य गणमान्य लोगों द्वारा दोबारा बैठक कराया गया. इस बैठक में भी मामला नहीं सुलझा. मामला सुलझता नहीं देख विनोद महतो ने कानूनी कार्रवाई की मांग की है.

मुखिया महेंद्र महतो ने बताया कि जिस जमीन पर गड्ढा खोद कर 6 फीट दीवार बनाया गया है. वह जमीन का खाता नंबर 114 और प्लॉट नंबर 2678 है. जमीन का किस्म आम बाग खलिहान है. इसे सार्वजनिक खलिहान के लिए छोड़ा गया है. यहां पूर्वजों से हमलोग खलिहान करते आ रहे हैं एवं आने- जाने का रास्ता छोड़ा गया है. इस पर कोई घर नहीं बना सकता है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें