1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. in bishunpur the female broker deals the marriage of a minor in 10 thousand the drama became fierce as soon as the bride got married sam

बिशुनपुर में महिला दलाल ने 10 हजार में नाबालिग की शादी की डील, वर पक्ष के शादी करने पहुंचते ही जमकर हुआ ड्रामा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : नाबालिग से शादी करने वर पक्ष पहुंचा बिशुनपुर. फिर थाना में जमकर हुआ हाईवोल्टेज ड्रामा.
Jharkhand news : नाबालिग से शादी करने वर पक्ष पहुंचा बिशुनपुर. फिर थाना में जमकर हुआ हाईवोल्टेज ड्रामा.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Gumla news : बिशुनपुर (बसंत कुमार) : गुमला जिला अंतर्गत बिशुनपुर प्रखंड के एक गरीब भुईयां परिवार की 14 वर्षीय पुत्री का विवाह एक महिला दलाल की पहल पर मुजफ्फरपुर के अनुज कुमार श्रीवास्तव (28 वर्ष) पिता शशि कुमार श्रीवास्तव के साथ शुक्रवार को बनारी स्थित कोयलेश्वर मंदिर में करा दिया गया. मामले की जानकारी जब गांव के ग्रामीणों को हुई, तो गांव के कुछ जागरूक लोगों ने थाना प्रभारी मोहन कुमार एवं बीडीओ छंदा भट्टाचार्य को दिया. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर मंडप से ही दूल्हा- दुल्हन समेत संबंधित परिवार को हिरासत में लिया. हालांकि, प्रशासन के पहुंचने से पूर्व स्थानीय एक पंडित द्वारा सिंदूर रस्म पूरा करा दिया गया था.

लड़की के पिता ने बताया कि बिशुनपुर की एक महिला सतनू महली के द्वारा मोबाइल वीडियो कॉल के माध्यम से लड़का के परिजनों से लड़की का मुंह दिखाई का रस्म कराया गया. जिसके बाद लड़के के परिजनों को लड़की पसंद आयी और शुक्रवार को लड़का अनुज श्रीवास्तव अपने माता-पिता एवं दीदी-जीजा के साथ बिशुनपुर पहुंचा. जहां गुप्त तरीके से एक स्थानीय पंडित की व्यवस्था कर वे लोग बनारी कोयल नदी के किनारे कोलेश्वर मंदिर पहुंचे. जहां शादी की रस्म शुरू हुआ और सिंदूर का रस्म तक पूरा हो गया.

शादी की कीमत 10 हजार

लड़की के पिता ने पूछताछ में बताया कि दलाल के माध्यम से मुझे कहा गया था कि शादी के बाद 10 हजार रुपये एवं शादी का खर्च लड़के के परिवार के द्वारा मुझे दिया जायेगा. लड़की के माता-पिता ने बताया कि दलाल के माध्यम से वीडियो कॉलिंग में लड़का को दिखाया गया था. आज हमलोगों ने लड़का एवं उसके परिजनों को देखा है. हालांकि, अभी तक जान- पहचान नहीं हुई है. फिर भी शादी हो रही थी.

आर्थिक रूप से मजबूत है वर पक्ष

लड़का पक्ष के परिजनों से बातचीत करने पर पता चला कि उनके घर में सभी लोग नौकरी करते हैं. लड़का दिखने में सुंदर है. ऐसे में गांव स्तर की एक निम्न परिवार की लड़की कैसे पसंद आ गयी. परिजनों का मनसा क्या है. वह स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन लोगों के द्वारा यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि कहीं यह बड़े परिवार शादी का नाटक कर अपने घर में नौकरानी के तौर पर यहां की बिटिया को ले जा रहे थे.

मैनेजर के पोस्ट पर पदस्थापित है लड़का

अनूप श्रीवास्तव से उसके विषय में पूछा गया तो उसने बताया कि मैं रियल एस्टेट मैनेजर के रूप में दिल्ली में कार्यरत हूं. हालांकि, पुलिस द्वारा रियल एस्टेट के पदाधिकारियों से बात कराने की बात कही गयी, तो उसके पास नंबर नहीं थे. परिजनों के द्वारा दिये गये नंबर से बात कराया, तो लड़के को कंपनी के लोग पहचानने से इनकार कर दिया.

कार्रवाई होगी : बीडीओ

प्रखंड विकास पदाधिकारी छंदा भट्टाचार्य ने कहा कि आधार कार्ड के अनुसार लड़की अभी नाबालिग है. उक्त बच्ची से शादी करने एवं कराने वालों पर नियम संगत कार्रवाई की जायेगी.

मानव तस्करी का मामला : थानेदार

थाना प्रभारी मोहन कुमार ने कहा कि मामले को लेकर हरेक बिंदुओं पर जांच की जा रही है. दोनों पक्ष एवं अगुआ के माध्यम से सच्चाई की जानकारी ली जा रही है. अभी तक कुछ मामला सामने नहीं आया है. प्रथम दृष्टया में यह लगता है कि मानव तस्कर का मामला है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें