1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. example of brotherhood in gumla the atmosphere of festival of 3 religions together became devotional smj

झारखंड के गुमला में भाईचारे की मिसाल, एक साथ तीन धर्मों के पर्व को लेकर भक्तिमय बना माहौल

गुमला में 3 धर्मों के पर्व को लेकर माहौल भक्तिमय बना हुआ है. रामनवमी को लेकर पूरा इलाका जहां महावीरी पताका से लहरा रहा है, वहीं मुस्लिम समुदाय के लोग पवित्र महीना रमजान को लेकर अल्लाह की इबादत में डूबे हैं. इसके अलावा ईसाई समुदाय के लोग गुड फ्राइडे को लेकर तैयारी में जुट गये हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: महावीरी झंडा से पटा गुमला का इलाका.
Jharkhand news: महावीरी झंडा से पटा गुमला का इलाका.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: गुमला में एक तरफ जहां हिंदू धर्मावलंबी राम की भक्ति में डूबे हुए हैं, तो दूसरी तरफ मुस्लिम धर्मावलंबी अल्लाह की इबादत कर रहे हैं. राम और रहीम का अटूट मिलाप गुमला में देखने को मिल रहा है. वहीं, ईसाई समुदाय के लोग भी गुड फ्राइडे को लेकर काफी उत्साहित हैं. गुमला में एक साथ तीन धर्मों के पर्व को लेकर माहौल भक्तिमय बना हुआ है. लोग भाईचारगी की मिसाल पेश कर रहे हैं और एक-दूसरे धर्म के पर्व त्योहार को भक्तिमय माहौल में संपन्न कराने में सहयोग कर रहे हैं.

Jharkhand news: गुमला की मस्जिद में रमजान के पहले जुम्मा की पढ़ी गयी नवाज.
Jharkhand news: गुमला की मस्जिद में रमजान के पहले जुम्मा की पढ़ी गयी नवाज.
प्रभात खबर.

महावीरी झंडा से पटा गुमला

रामनवमी पर्व को लेकर गुमला राममय हो गया है. चारों तरफ महावीरी झंडा लहरा रहा है. शाम होते ही अखाड़ों में ढोल और ताशा गूंजने लगता है. केंद्रीय महावीर मंडल समिति, गुमला द्वारा 9 अप्रैल को अष्टमी का जुलूस निकाला जायेगा. इसके दूसरे दिन बाद रामनवमी पर्व पर जुलूस निकलेगा. अष्टमी और रामनवमी के जुलूस को लेकर हिंदू धर्मावलंबियों ने पूरी तैयारी की है. इस बार 28 निबंधित अखाड़ा द्वारा जुलूस निकाला जायेगा. वहीं, गुमला शहर में 10 पूजा समितियों द्वारा आकर्षक झांकी निकालने की तैयारी की गयी है.

शांतिपूर्ण तरीके से निकलेगी रामनवमी जुलूस

इस संबंध में केंद्रीय महावीर मंडल के अध्यक्ष शशि प्रिय बंटी ने कहा कि रामनवमी भगवान राम का पर्व है. गुमला अंजनीपुत्र श्रीराम भक्त हनुमान की जन्म स्थली है. इसलिए गुमला में रामनवमी पर्व का एक अलग महत्व और उत्साह होता है. गुमला शुरू से ही भाईचारगी की मिसाल पेश करते रहा है. गुमला में रामनवमी की जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से निकाली जायेगी.

रमजान की पहली जुम्मा की पढ़ी गयी नवाज

माहे रमजान की पहली जुम्मा की नमाज आठ अप्रैल को पढ़ी गयी. इसको लेकर पूर्व में ही तैयारी की गयी थी. हर मस्जिद में आम दिनों में होने वाले जुम्मा नमाज की तरह ही जामा मस्जिद में दोपहर 1.30 बजे, मोती मस्जिद में दोपहर एक बजे, गौसुल वरा में दोपहर 1.15 बजे और कादरिया मस्जिद में दोपहर 12.45 बजे जुम्मे की नमाज अदा की गयी. इससे पहले खुतबा पढ़ी गयी और खुतबा के बाद जुम्मा की नमाज अदा की गयी.

अल्लाह की इबादत में डूबे लोग

इस संबंध में अंजुमन इस्लामियां, गुमला के खुर्शीद आलम ने कहा कि पहली जुम्मे की नमाज को लेकर मुस्लिम धर्मावलंबी उत्साह में है. सभी अपने स्तर से तैयारी किये हैं. अभी रमजान का महीना है. यह पवित्र महीना है. सभी लोग अल्लाह की इबादत में डूबे हुए हैं. गुमला में अमन-चैन व भाईचारगी बनी रहे. इसके लिए हम सदा अल्लाह से दुआ करते हैं.

गुमला के 39 चर्चा में गुड फ्राइडे की तैयारी

गुमला बिशप हाउस के प्रवक्ता फादर सीप्रियन कुल्लू ने कहा कि गुड फ्राइडे पर्व की तैयारी चल रही है. गुमला धर्मप्रांत में 39 चर्च है. सभी चर्चो में हर दिन प्रार्थना हो रही है. संडे को विशेष प्रार्थना होती है. गुड फ्राइडे को लेकर प्रस्तुत किये जाने वाले झांकी की भी तैयारी सभी जगह युवा मंडली द्वारा किया जा रहा है. इस दिन गुड फ्राइडे पर्व मनाने के कारणों को झांकी के माध्यम से प्रस्तुति किया जाता है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें