गलत जांच रिपोर्ट देने पर बीडीओ को फटकार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
गुमला : घाघरा प्रखंड के घाघरा पंचायत की मुखिया गीता देवी द्वारा मनमानी करने और जांच के बाद इसकी गलत रिपोर्ट तैयार करने वाले घाघरा बीडीओ को मुख्यमंत्री के सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने फटकार लगायी है.
घाघरा पंचायत की मुखिया गीता देवी जनवरी 2017 से अप्रैल 2017 तक जनप्रतिनिधियों की एक भी बैठक नहीं बुलायी है. साथ ही वह घाघरा पंचायत भवन में ताला लगा कर उसकी चाबी अपने पास ही रखती है. इस कारण घाघरा पंचायत में विकास योजनाओं पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है. साथ ही पंचायत के लोगों के कई प्रकार के काम भी नहीं हो रहे हैं. जनप्रतिनिधियों ने मुखिया की शिकायत मुख्यमंत्री जनसवांद के माध्यम से मुख्यमंत्री रघुवर दास से की. मामला संज्ञान में आने के बाद इसकी जांच का आदेश हुआ, तो घाघरा बीडीओ ने मुखिया गीता देवी से सीधी बात कर रिपोर्ट बनायी और जमा कर दिया.
मंगलवार को मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम के तहत आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंस में सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने मामले को पुन: उठाया और जिसकी गलती है, उसी से पूछताछ कर रिपोर्ट जमा करने पर घाघरा बीडीओ को जम कर फटकार लगायी. हालांकि वीडियो कॉन्फ्रेंस में घाघरा बीडीओ नहीं थे, लेकिन मुख्यमंत्री जनसंवाद के नोडल पदाधिकारी सह जिला परिवहन पदाधिकारी विजय वर्मा को पारदर्शी तरीके से मामले की जांच कराने का निर्देश दिया. कहा कि बीडीओ को पंचायत मुख्यालय भेजें और वहां के रजिस्टर व दस्तावेजों की जांच करें. वीडियो कॉन्फ्रेंस में जिले से सदर डीएसपी इंद्रमणि चौधरी, पीएचइडी के इइ त्रिभुवन बैठा, एसडीओ कृष्ण कन्हैया राजहंस, जिला परिषद के डीपीआरओ धनवीर लकड़ा व इ-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमर हुडमरे सहित विभिन्न विभागों के पदाधिकारी मौजूद थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें