1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. prabhat khabar impact swayamsevaks withdraw in case of pm awas yojana in nawada action will also be taken on panchayat sevak smj

प्रभात खबर इंपैक्ट : नवादा में पीएम आवास योजना गड़बड़ी मामले में स्वयंसेवक हटे, पंचायत सेवक पर भी होगी कार्रवाई

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : नवादा पंचायत में पीएम आवास योजना में गड़बड़ी मामले में स्वयंसेवक पर गिरी गाज. पंचायत सेवक के खिलाफ भी जल्द होगी कार्रवाई.
Jharkhand news : नवादा पंचायत में पीएम आवास योजना में गड़बड़ी मामले में स्वयंसेवक पर गिरी गाज. पंचायत सेवक के खिलाफ भी जल्द होगी कार्रवाई.
फाइल फोटो.

Jharkhand news, Garhwa news : गढ़वा (पीयूष तिवारी) : गढ़वा प्रखंड के नवादा पंचायत में पीएम आवास योजना (PM Awas Yojana) में गड़बड़ी के मामले में उपविकास आयुक्त (DDC) के आदेश के बाद स्वयंसेवक को हटा दिया है़ वहीं, पंचायत सेवक के खिलाफ प्रपत्र क (आरोप पत्र गठित ) की कार्रवाई शुरू हो गयी है. इस मामले में लाभुक का मिलते-जुलते नाम का फायदा उठाकर गड़बड़ी की गयी थी.

इस मामले में गलत तरीके से निकाली गयी राशि की वसूली भी कर ली गयी है. जिन लाभुकों से राशि की वसूली की गयी है उसमें संत राम से 40 हजार रुपये, बसंत राम से 1.25 लाख रुपये, नंदलाल राम से 40 हजार रुपये तथा बिंदेश्वरी राम से 40 हजार रुपये की राशि शामिल है. इसी कड़ी में नवादा पंचायत के केरवा गांव से मृतक राजेश राम के स्थान पर फर्जी तरीके से दूसरे राजेश राम का रजिस्ट्रेशन कर दिये जाने पर भी कार्रवाई करते हुए उसका रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया गया.

क्या है मामला

नवादा पंचायत के नवादा गांव में पीएम आवास योजना के लाभुकों के बदले मिलते- जुलते नाम का फायदा उठाते हुए बगल के बघमनवा गांव के दूसरे लोगों को इसका लाभ दे दिया गया था, जबकि बघमनवा गांव के एक भी व्यक्ति का नाम सेक डाटा में मौजूद नहीं था. प्रभात खबर में इससे संबंधित खबर प्रकाशित होने के बाद उपविकास आयुक्त सत्येंद्र नारायण उपाध्याय के निर्देश पर गढ़वा बीडीओ कुमुद कुमार झा ने एक जांच टीम गठित की थी. जांच टीम की रिपोर्ट के बाद कार्रवाई शुरू की गयी है.

इन पर हुई कार्रवाई

गढ़वा बीडीओ कुमुद कुमार झा ने स्वयंसेवक विक्रम ठाकुर को हटाते हुए उसका आईडी-पासवर्ड जब्त कर लिया है. उसके स्थान पर वहां के स्वयंसेवक पूनम कुमारी को उसके क्षेत्र की भी जिम्मेवारी सौंपी गयी है, जबकि नवादा के पंचायत सेवक विनोद गुप्ता पर कार्रवाई के लिए प्रपत्र- क गठित करने की प्रक्रिया शुरू की गयी है. इसके अलावे इस मामले में तत्कालीन कंप्यूटर ऑपरेटर की भूमिका की भी जांच की जा रही है. वर्तमान में संबंधित कंप्यूटर ऑपरेटर दूसरे विभाग में सेवारत हैं. बताया गया कि इस मामले में प्राथमिकी भी दर्ज की जायेगी.

मरहटिया में पीएम आवास के बिचौलिये पर प्राथमिकी का निर्देश

गढ़वा बीडीओ कुमुद कुमार झा ने पीएम आवास के एक बिचौलिये पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है. गढ़वा प्रखंड के तिवारी मरहटिया के बरवाही टोला के ग्रामीणों ने बीडीओ से मिलकर शिकायत की थी कि उनके पीएम आवास की राशि का वहां के बिचौलिये ने बंदरबांट कर लिया है. ग्रामीणों के अनुसार, इसमें मुखिया एवं रोजगार सेवक भी शामिल हैं. ग्रामीणों ने गुरुवार को बीडीओ को दिये आवेदन में कहा है कि इस मामले में पहले पंचायती भी हुई थी, जिसमें बिचौलिया सुखदेव उरांव ने धोखा देकर निकाली गयी राशि को लौटाने की बात कही थी, लेकिन अब तक उसने राशि नहीं लौटायी.

इधर, इस मामले में प्रखंड विकास पदाधिकारी श्री झा के निर्देश पर बीपीओ मुक्ता बाला एवं नवादा पंचायत के पंचायत सेवक विनोद गुप्ता ने मामले की जांच की थी. जांच में ग्रामीणों को धोखा देकर राशि निकासी कराने की बात भी सामने आयी थी. इस वजह से ग्रामीणों का आवास निर्माण भी अधूरा पड़ा हुआ है. इसको लेकर गुरुवार को बिचौलिये के धोखे के शिकार हुए ग्रामीण गढ़वा प्रखंड कार्यालय पहुंचे और पूरे प्रकरण से बीडीओ को अवगत कराया. बीडीओ ने इस मामले में तत्काल बिचौलिया सुखदेव उरांव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया.

किससे कितनी राशि की निकासी की गयी

जिन लाभुकों के राशि की निकासी की गयी उनमें विनोद उरांव का 10260, धनवरती देवी का 5052, हीरमनिया कुवंर का 4032, गोपाल उरांव का 10260, गोविंद उरांव का 2016, रजमतिया देवी का 5040, रजपतिया देवी का 9405, तेजू उरांव का 12312, शिवशंकर उरांव का 13610, महेंद्र उरांव का 8064, रामचंद्र उरांव का 5643, सुनीता देवी का 2052, वैशाखी देवी का 4032, जगेश्वर उरांव का 6048, शिवनाथ उरांव का 14022, नारद उरांव का 10260 तथा चरितर उरांव का 11286 रूपये शामिल है.

जानबूझकर की गयी है यह गड़बड़ी : बीडीओ

इस संबंध में गढ़वा बीडीओ कुमुद कुमार झा ने बताया कि नवादा पंचायत में पीएम आवास योजना में गड़बड़ी का यह मामला वित्तीय वर्ष 2020- 21 का है. यह गड़बड़ी स्वयंसेवक द्वारा जान- बूझकर की गयी है. जांच के दौरान यह तथ्य सामने आया है. इसमें कुछ अन्य कर्मियों ने भी उसका सहयोग किया है. सभी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें