1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. cheating by installing mobile app half dozen cyber criminals arrested in deoghar smj

Jharkhand Cyber News: कई एप इंस्टॉल कराकर हो रही ठगी, देवघर में आधा दर्जन साइबर क्रिमिनल्स गिरफ्तार

लोगों को विभिन्न तरीके से ठगी करने के मामले में देवघर की साइबर पुलिस ने आधा दर्जन साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. विभिन्न एप को इंस्टॉल कराकर और फिर OTP लेकर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: 6 साइबर क्रिमिनल्स की गिरफ्तारी की जानकारी देते साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद व अन्य.
Jharkhand news: 6 साइबर क्रिमिनल्स की गिरफ्तारी की जानकारी देते साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद व अन्य.
प्रभात खबर.

Jharkhand Cyber Crime News: साइबर क्रिमिनल्स तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं. कभी बैंक अधिकारी बनकर, तो कभी KYC अपडेट के नाम पर, तो कभी गेमिंग एप के माध्यम से ठगी कर रहे हैं. ताजा मामला विभिन्न मोबाइल एप इंस्टॉल कराकर लोगों को ठगी का शिकार बनाने का सामने आया है.

आधा दर्जन साइबर क्रिमिनल्स गिरफ्तार

देवघर के साइबर पुलिस की टीम ने जिले के पथरड्डा ओपी क्षेत्र के रांगामटिया गांव में छापेमारी कर आधा दर्जन साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों के पास से पुलिस ने 7 मोबाइल फोन, 13 सिम कार्ड एवं एक एटीएम कार्ड बरामद किया है. जबकि पथरड्डा ओपी क्षेत्र के रांगामटिया गांव के रहने वाले चंदन कुमार दासस मुकेश कुमार दास, रमेश कुमार दास, मुन्ना दास, अरुण कुमार दास के अलावा पथरड्डा अोपी क्षेत्र के तंगीडीह गांव निवासी संतोष महरा को साइबर पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

बड़े साफगोई से लोगों को लेते हैं झांसे में

गिरफ्तारी के संदर्भ में पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, उपरोक्त आरोपी बड़े ही शातिर तरीके से टीम व्हियूर और क्विक सपोर्ट जैसे रिमोट एक्सेस एप इंस्टॉल करवाने के बाद लोगों को अपने झांसे में लेकर पहले OTP प्राप्त करता है और फिर उसके अकांउट को साइबर क्रिमिनल्स खाली कर देता है.

गिरफ्तार चंदन कुमार दास है शातिर

साइबर क्रिमिनल्स चंदन कुमार दास पूर्व से शातिर ठग रहा है. इससे पूर्व भी कांड संख्या 85/20 के तहत धोखाधड़ी व आइटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उसे जेल भेजा गया था. फिलहाल वह जमानत पर बाहर निकला है. इसके बाद भी लोगों से ठगी करने का काम नहीं छोड़ा और एक बार फिर पुलिस के हत्थे चढ़ा है.

एसपी को मिली थी सूचना

साइबर थाना की ओर से बताया गया कि एसपी धनंजय कुमार सिंह को सूचना मिली थी कि रांगामटिया गांव के कुछ युवा भोले-भाले लोगों को फोन कर बैंक अधिकारी बनकर उन्हें अपने झांसे में लेकर बैंक खाते से संबंधित जानकारी प्राप्त कर ठगी की घटना को अंजाम दे रहे हैं. निर्देश मिलते ही साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद व मुख्यालय डीएसपी मंगल सिंह जामुदा के नेतृत्व में एक विशेष छापेमारी टीम का गठन किया गया. उसके बाद छापेमारी टीम द्वारा रांगामटिया गांव में छापेमारी कर वहां से सभी आरोपितों को गिरफ्तार किया गया. छापेमारी टीम में पुलिस निरीक्षक छठूराम गौंड के अलावा एसआइ आतिश कुमार, अपून पीटर कुजुर, अवधेश बाड़ा, हरिश कुमार सिंह, अघनु मुंडा, पुष्पेश्वर दास, रमेश मुंडा, रूपेश कुमार तथा संगीता कुमारी शामिल थी.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें