1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. chatra
  5. navratri 2021 sadhaks from other states including bihar gather in maa bhadrakali temple in chatra preparations completed smj

Navratri 2021: चतरा के मां भद्रकाली मंदिर में बिहार समेत अन्य राज्यों के साधकों का होगा जुटान, तैयारी हुई पूरी

चतरा के मां भद्रकाली मंदिर परिसर में 7 अक्टूबर को बिहार समेत देश के अन्य राज्यों से कई साधकों का जुटान होगा. इस दौरान मंदिर के पुजारी, साधक समेत अन्य लोगों को दुर्गापूजा गाइडलाइन का हर हाल में पालन करना होगा. साधक के आने को लेकर मंदिर में तैयारी पूरी कर ली गयी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शारदीय नवरात्र के मौके पर 7 अक्टूबर को मां भद्रकाली मंदिर परिसर में जुटेंगे साधक.
शारदीय नवरात्र के मौके पर 7 अक्टूबर को मां भद्रकाली मंदिर परिसर में जुटेंगे साधक.
प्रभात खबर.

Navratri 2021 (इटखोरी, चतरा) : शारदीय नवरात्र के मौके पर 7 अक्टूबर को मां भद्रकाली मंदिर में देश के कई क्षेत्रों से साधक जुटेंगे. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सरकारी गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए साधकों को साधना करने की अनुमति प्रदान की गयी है. मंदिर के पुजारी व साधक भी कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह ख्याल रखेंगे.

मां भद्रकाली मंदिर समेत सभी पूजा स्थलों में गुरुवार को कलश स्थापना की जायेगी. इसकी तैयारी कर ली गयी है. मालूम हो कि मां भद्रकाली मंदिर में हर साल बिहार समेत कई राज्यों से साधना करने भक्त पहुंचते हैं. माता के 9 स्वरूपों की विधि-विधान से पूजा होती है. दुर्गासप्तशती के मंत्रोच्चार से दरबार गूंजता है.

9 दिन तक होती है शृंगार पूजन

नवरात्र के 9 दिनों तक माता का विशेष शृंगार पूजन होता है. इस दौरान रोजाना संध्या काल में महाआरती होती है और प्रसाद वितरण होता है, लेकिन इस बार राज्य सरकार की ओर से श्रद्धालुओं के बीच प्रसाद वितरण की मनाही है. वहीं, नवरात्र के कारण मंदिर परिसर को आकर्षक रूप से सजाया गया है.

महाष्टमी को संधि बलि का खास महत्व

माता के दरबार में महाष्टमी के मौके पर होने वाले संधि बलि का खास महत्व है. संधि बलि के दिन पूरा परिसर भक्तों से भरा रहता है. इस साल 13 अक्टूबर को रात 11:41 बजे संधि बलि दी जायेगी.

Posted By : Samir Ranja.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें