1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. saharsa
  5. bihar election 2020 latest updates triangular contest in saharsha assembly see issue of simri bakhtiyarpur sonvarsha mahishi vidhan sabha latest chunav news hindi smt

Bihar Election 2020: सहरसा के 4 सीटों पर कहीं आमने-सामने, तो कहीं त्रिकोणीय मुकाबले के आसार, 7 नवंबर को होगा मतदान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bihar Election 2020, Third Phase Voting, Simri Bakhtiyarpur, Sonvarsha, Mahishi, Saharsha
Bihar Election 2020, Third Phase Voting, Simri Bakhtiyarpur, Sonvarsha, Mahishi, Saharsha
Prabhat Khabar Graphics

Bihar Election 2020, Third Phase Voting, Simri Bakhtiyarpur, Sonvarsha, Mahishi, Saharsha: सहरसा (दीपांकर) : तीसरे व आखिरी चरण के तहत सात नवंबर को सहरसा जिले के चार विधानसभा में मतदान होना है. सभी पाटियां व प्रत्याशियों ने अपना सबकुछ चुनाव प्रचार में झोंक दिया है. जिले में सहरसा सहित सिमरी बख्तियारपुर, सोनवर्षा व महिषी विधानसभा की चार सीटें हैं. Bihar Election 2020 Live News से जुड़ी हर खबर के लिये बने रहिये prabhatkhabar.com पर.

जिनमें सहरसा, महिषी व सिमरी बख्तियारपुर में राजद का कब्जा है तो सोनवर्षा में जदयू का. इसमें महिषी से विधायक रहे पूर्व मंत्री अब्दुल गफूर की छह महीने पहले मौत हो चुकी है. विभिन्न पाटियों से टिकट के दावेदार ने टिकट नहीं मिलने पर बागी का रूप अपना लिया है और समीकरण को ध्वस्त करने में जुट गये हैं.सहरसा: नजदीकी मुकाबले के आसारसहरसा विस सीट पर रोचक मुकाबला होने की उम्मीद है.

एनडीए ने भाजपा केपूर्व विधायक डॉ आलोक रंजन को एक बार फिर से अपना उम्मीदवार बनाया है तोमहागठबंधन ने राजद विधायक अरूण यादव का टिकट काट कर पूर्व सांसद आनंद मोहन की पत्नी पूर्व सांसद लवली आनंद को अपना उम्मीदवार बना सवर्ण वोट में भी सेंध मारने की कोशिश की है.

इस सीट से भाजपा व राजद से बागी हुएनेता भी निर्दलीय बन मैदान में है और इनके समीकरण को बिगाड़ने की कोशिशमें है. भाजपा से अलग होकर किशोर कुमार मुन्ना व राजद से अलग हुए रंजीतयादव मुकाबले को चार कोणों में बनाने की गणित में जुटे हुए हैं. जाप सेरंजन प्रियदर्शी भी मुकाबले के अपने पक्ष में होने का दावा ठोंक रहे हैं.महिषी : तीसरा कोण बनाने में जुटी भाजपामहिषी विधानसभा सीट पर भी मुकाबला रोचक होने की उम्मीद है.

राजद ने पूर्वबीडीओ गौतम कृष्ण को अपना उम्मीदवार बनाया है, जिन्होंने पिछले चुनाव मेंजाप के टिकट पर अच्छा खासा मत प्राप्त कर अपना दावा मजबूत किया था. जदयू ने पूर्व विधायक गुंजेश्वर साह पर अपना दांव खेला है.

इस दोनों के बीच राजद से टिकट के प्रबल दावेदार रहे पूर्व मंत्री स्व अब्दुल गफूर के बेटे ने राजद से टिकट नहीं मिलने के बाद लोजपा का दामन थाम लिया है और इन दोनों दावेदारों को टक्कर देने की रणनीति में जुटे हुए हैं. रालोसपा के टिकट से जिलाध्यक्ष शिवेंद्र कुमार जीशु भी ताबड़तोड़ जनसंपर्क कर मुकाबले को चौथे कोण बनने की कोशिश में जुटे हैं.सिमरी बख्तियारपुर : मुकेश सहनी के कारण सभी की नजर इस सीट परसिमरी बख्तियारपुर विस की सीट पर सभी की नजर बनी हुई है.

यहां से एनडीए ने वीआइपी सुप्रीमो मुकेश सहनी को उम्मीवार बनाया है. जिनके कोरोना पॉजिटिव होने के बाद समर्थकों ने प्रचार का बीड़ा उठा लिया था. सोमवार से खुद मुकेश सहनी ने प्रचार की कमान संभाल ली है. राजद से युसूफ सलाहउद्दीन को टिकट दिया गया है, जो लोजपा सांसद चौधरी महबूब अली कैसर के पुत्र हैं. लोजपा ने संजय सिंह को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है. रितेश रंजन निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मैदान में हैं, जिन्हें लगातार क्षेत्र में रहने व लोगों के सुख दुख में शामिल होने के बल पर क्षेत्र का इतिहास बदलने की उम्मीद है.

सोनवर्षा : त्रिकोणीय मुकाबले के आसारसोनवर्षा विस सीट से मुकाबला त्रिकोणीय होने की उम्मीद है. जदयू नेलगातार तीन बार विधायक रहे रत्नेश सादा को एक बार फिर से कमान संभालने कामौका दिया है तो महागठबंधन ने कांग्रेस उम्मीदवार तारिणी ऋषिदेव को अपनाउम्मीदवार बनाया है. इन दोनों के बीच क्षेत्र में लगातार सक्रिय रही लोजपा की उम्मीदवार सरिता पासवान इन दोनों के खेल को बिगाड़ने में दिन-रात एक किये हुए है. जाप ने मनोज पासवान को यहां से अपनी उम्मीदवारी है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें