लंबी दूरी के ट्रेनों के परिचालन के लिए वाशिंग पिट जरूरी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पूर्णिया : एनएफ रेलवे के कटिहार-जोगबनी रेलखंड पर पूर्णिया से लंबी दूरी के ट्रेनों के परिचालन के साथ पिट लाइन की मांग जोर पकड़ने लगी है. शहरवासियों का मानना है कि इसके लिए पूर्णिया जंक्शन स्टेशन पर वाशिंग पीट बनाये जाने की जरूरत है. शहरवासी कहते हैं कि इसके लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा एनएफ रेलवे के अधिकारियों का ध्यान इस तरफ दिलाये जाने की जरूरत है.

गौरतलब है कि इस रेलखंड पर कटिहार से खुलने वाली लंबी दूरी की तमाम ट्रेनों का परिचालन पूर्णिया से किये जाने की मांग की जा रही है. इस मांग को लेकर कई दफे धरना व प्रदर्शन का आयोजन किया गया जबकि रेल मंत्रालय व जीएम को भी लिखा गया. जनप्रतिनिधियों ने भी अपने कई लंबी दूरी की ट्रेनों को कम से कम पूर्णिया तक किये जाने की मांग मुखर रूप से रखी.
इतना ही नहीं, अपने रेल मंत्रित्वकाल में लालू प्रसाद ने पटना तक जाने वाली इंटरसिटी को पूर्णिया से खोले जाने का आदेश भी जारी कर दिया था. मगर, विडंबना है कि बारंबार मांग के बावजूद आज भी अमृतसर जाने के लिए कटिहार जाकर ट्रेन पकड़ने की विवशता बनी हुई है.
जानकारों का कहना है कि लंबी दूरी की ट्रेनों का परिचालन और ट्रेनों के विस्तार के लिए वाशिंग पीट का निर्माण जरूरी है. ट्रेनों की साफ सफाई और मेंटेनेंस के साथ इंजिन की मुविंग के लिए वाशिंग पीट लाइन तकनीकी दृष्टि से जरूरी है. जानकारों का कहना है कि वाशिंग पिट लाइन बनने के बाद ही यहां से नई ट्रेनों का परिचालन संभव हो सकेगा.
जानकारों ने बताया कि ट्रेनों का परिचालन शुरू करने से पहले वाशिंग पिट और आउटर के पास ट्रेन को रोककर स्टेशन पर प्लेस कराने की व्यवस्था लाजिमी है पर इसके लिए कभी कोई मांग नहीं उठायी जा सकी जबकि ट्रेन परिचालन शुरू होने का फायदा हजारों रेल यात्रियों को होगा. स्थानीय नागरिकों ने कहा है कि इसके लिए रेलवे के पास भूमि भी उपलब्ध है. अत्याधुनिक वाशिंग पीट होने से लंबी दूरी की ट्रेनों को चलाना आसान हो जायेगा.
अगर ट्रेन का इस जगह से परिचालन करने की बात आती है तब इससे पहले वाशिंग पीट का निर्माण जरुरी हो जाता है. हालांकि स्टेशन के करीब जगह नहीं है पर रेलवे चाहे तो आसपास इसके लिए जगह बनायी जा सकती है. पूर्णिया स्तर से इसके लिए अब तक कोई प्रस्ताव नहीं गया है.
मुन्ना कुमार, स्टेशन अधीक्षक, पूर्णिया जंक्शन
बताते हैं आंकड़े
250 साल पुराना है जिला
11 रेलवे स्टेशन हैं पूर्णिया-जोगबनी रेलखंड में
08 हॉल्ट हैं पूर्णिया से जोगबनी के बीच
07 जोड़ी पैसेंजर ट्रेने इस रुट में आती-जाती हैं
03 एक्सप्रेस ट्रेन चलती हैं इस रुट में
03 जोड़ी पैसेंजर ट्रेन सहरसा रुट में चलती है
01 एक्सप्रेस हमसफर सहरसा होते जाती है दिल्ली
10 हजार से अधिक यात्री रोजाना करते हैं सफर
03 रैक प्वाइंट हैं रेलवे के इस परिक्षेत्र में
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें