1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. teachers who do not teach even after desired posting in bihar be suspended philae app launched for children rdy

बिहार में मनचाही पोस्टिंग के बाद भी नहीं पढ़ाने वाले शिक्षक होंगे सस्पेंड, बच्चों के लिए फिलाे एप लांच

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि मनचाही पोस्टिंग के बाद भी नहीं पढ़ाने वाले शिक्षक सस्पेंड किये जाएंगे. उच्चतर माध्यमिक सरकारी स्कूलों के बच्चों को ऐप की सुविधा एक साल फ्री मिलेगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षक खुद इन्फोर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी को आत्मसात करें.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
शिक्षक
शिक्षक
सांकेतिक तस्वीर

पटना. शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि शिक्षकों को उनके मनचाहे स्थान पर पोस्टिंग दी जा रही है. इसके बाद भी वह ईमानदारी से नहीं पढ़ाएं, तो उन्हें तत्काल सस्पेंड किया जाना चाहिए. अफसरों की जिम्मेदारी है कि वह दफ्तरों में नहीं, स्कूलों में पहुंचें. वहां कम -से - कम एक पीरियड में मौजूद रहें. पढ़ाई का स्तर जानें. इसके बाद पढ़ाई की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाएं . मुख्यालय में दूर-दराज से शिक्षक और कर्मचारी नहीं दिखने चाहिए. इसके लिए जरूरी है कि अफसर खुद दूरस्थ क्षेत्रों में पहुंचें.

45 लाख बच्चों को मिलेगा लाभ

शुक्रवार को शिक्षा मंत्री ने यह बात श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित कक्षा नौ से 12 वीं तक के क्लास के 45 लाख बच्चों की पढ़ाई से जुड़ी दिक्कतों के समाधान के लिए फिलाे एप की औपचारिक लांचिंग के अवसर पर कही. फिलो एप बच्चों को लाइव ट्यूटरिंग करेगा. एप पाठ्यक्रम और पेशेवर कोर्स से जुड़ी दिक्कतों का समाधान करेगा. इसका निर्माण बिहार के ही आइआइटियंस ने किया है.

बच्चों को ऐप की सुविधा एक साल फ्री मिलेगी

उच्चतर माध्यमिक सरकारी स्कूलों के बच्चों को ऐप की सुविधा एक साल फ्री मिलेगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षक खुद इन्फोर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी को आत्मसात करें. फिर बच्चों को अभ्यस्त करें. उन्होंने बच्चों का उन्होंने आह्वान किया कि मन लगा कर पढ़ाई करें. जब कुछ बन जाएं, तो अपने उस समाज को न भूलें, जिनके संसाधनों की दम पर आपने शिक्षा पायी.

शिक्षकों की कमी सातवें चरण में होगी पूरी : संजय कुमार

अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने कहा कि स्कूलों में विज्ञान वर्ग के शिक्षकों की कमी सातवें चरण के नियोजन में पूरी की जायेगी. 1453 के प्रिंटिंग प्रेस के अविष्कार के बाद शिक्षा में सबसे बड़ा बदलाव इंटरनेट/डिजिटल क्रांति के रूप में अब आया है. लिहाजा पूरी शिक्षा व्यवस्था डिजिटल प्लेटफॉम पर शिफ्ट हो रही है. शिक्षकों और बच्चों को डिजिटल क्रांति को आत्मसात करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि आने वाले दौर में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस अहम होगा. नये बच्चे डिजिटल टेक्नोलॉजी में जल्दी माहिर हो जायेंगे. इन्हें दिशा देने की जरूरत है. राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी किरण कुमारी ने प्रेजेंटेशन के जरिये गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से जुड़ी योजनाओं की जानकारी दी.

मानदेय बढ़ाने की मांग की

पटना. बिहार ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के समक्ष बिहार में समग्र शिक्षा अभियान के तहत शिक्षकों की नियुक्तियां बढ़ाने का आग्रह किया गया है. साथ ही समग्र शिक्षा अभियान के वर्तमान शिक्षकों के वेतन बढ़ाने की बात भी उनके समक्ष रखी गयी है. शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने यह बात संवाददाताओं से साझा की है. शुक्रवार को चौधरी ने कहा कि केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस मामले में सकारात्मक संकेत दिये हैं. शिक्षा मंत्री चौधरी ने बताया कि केंद्रांश बढ़ाने के लिए भी कहा है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें