1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus lockdown in bihar live updates latest news 28 march

Coronavirus Lockdown in Bihar, Live Updates : देश के दूसरे राज्यों से बिहार आने वाले लोगों को 14 दिनों तक रखा जायेगा कैंप में

By Rajat Kumar
Updated Date
10 हजार कोरोना चेकिंग किट विशेष विमान से पहुंचा पटना
10 हजार कोरोना चेकिंग किट विशेष विमान से पहुंचा पटना
प्रभातखबर

पूरी दुनिया में कहर बरपाने वाले कोरोना वायरस के कारण भारत में भी लॉकडाउन की स्थिति है. कोरोना महामारी की रोकथाम के लिये पूरे देश को 14 अप्रैल तक 'लाॅक डाउन' कर दिया गया है.कोरोना वायरस से दुनियाभर के देशों की स्थिति लगातार खराब होती जा रही है. जहां एक तरफ मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है, तो वहीं दूसरी बिहार में भी शनिवार को एक और कोरोना वायरस का पॉजिटिव मामला प्रकाश में आया है. जिसको मिलाकर बिहार में कोरोना पॉजिटिव के अब तक कुल दस मामले हो गये है.

email
TwitterFacebookemailemail

बेगूसराय के ग्रामीण क्षेत्रों में शुरू हुई होम डिलीवरी सेवा

बेगूसराय ज़िले के ग्रामीण क्षेत्रों में भी सब्जी आदि की उपलब्धता बनाए रखने के लिए होम डिलीवरी सेवा शुरू हो गई है.

email
TwitterFacebookemailemail

दूसरे राज्यों से बिहार आने वालों को रखा जायेगा कैंप में 

देश के दूसरे राज्यों से बिहार में प्रवेश करने वालों को 14 दिनों कैंप में रखा जाएगा. यूपी से बसों से गोपालगंज में आ रहे हैं सैकड़ों लोग. इन लोगों को गोपालगंज के आपदा शिविर में आइसोलेट किया जा रहा है. पैदल, साइकिल और अन्य किसी भी माध्यम से भी घर लौट रहे हैं लोगों को कैंप में भर्ती कराया जा रहा है

email
TwitterFacebookemailemail

मार्च माह में खाड़ी देशों से पटना आये लोगों की जिला प्रशासन बना रही लिस्ट

पटना जिला में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन अब खाड़ी देशों से मार्च माह में पटना एयरपोर्ट पर आये तमाम लोगों की लिस्ट बना रही है. इसके लिए पासपोर्ट विभाग और विमान कंपनियों से जानकारी मांगी गयी है. इससे खाड़ी देशों से आये लोगों की सूची जिला प्रशासन को मिल जायेगी और उनकी जांच करायी जायेगी. बताया जाता है कि मार्च के पहले सप्ताह में विमान से पटना एयरपोर्ट पर आये थे. लेकिन उस समय जांच की कोई व्यवस्था नहीं थी. जिसके कारण यह जानकारी नहीं मिल पायी कि उनमें से किसी को कोरोना वायरस था या नहीं? लेकिन अब शक की सूई इन लोगों पर भी घूम रही है. इसके कारण अब लिस्ट बनाना शुरू कर दिया गया है.

email
TwitterFacebookemailemail

दूसरे प्रदेशों से गोपालगंज आयेंगे तीन हजार मजदूर

राज्य सरकार के निर्देश पर दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा सहित अन्य प्रदेशों में फंसे मजदूरों को घर लाने की कवायद शुरू हो गयी है. दिल्ली से होकर उत्तर प्रदेश के रास्ते करीब तीन हजार मजदूरों के आने की जानकारी दी गयी है. बिहार के अलग-अलग जिलों के रहनेवाले इन मजदूरों को जिला मुख्यालय और प्रखंडों के हाइस्कूलों में बनाये गये कम्युनिटी सेंटरों में रखा जायेगा. जिला प्रशासन की ओर से हाइस्कूलों में बनाये गये कम्युनिटी सेंटर में खाने-पीने और सोने के साथ-साथ इलाज की व्यवस्था भी की गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

कोरोना के खिलाफ जंग में आप भी कर सकते हैं देश की मदद

कोरोना के खिलाफ देश बड़ी जंग लड़ रहा है, ऐसे में आप भी सरकार से जुड़ देशसेवा कर सकते हैं. भारत सरकार के चर्चित वेब पोर्टल माइ गवर्नमेंट के जरिये न सिर्फ कोरोना से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी दी जा रही है बल्कि इसके माध्यम से आम आदमी भी कोरोना के खिलाफ जंग में अपना सक्रिय योगदान दे सकते हैं. यहां पर इन दिनों कोविड 19 के खिलाफ मुहिम से जुड़ने का अवसर भी आम लोगों को दिया जा रहा है. यहां पर आप इस मुहिम से जुड़ने के लिये रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

सीवान में कोरोना का पॉजिटिव मरीज मिलने पर सभी बगल के गांवों को किया गया सील

बिहार के सीवान जिले के नौतन प्रखंड के अंगौता पंचायत के अंगौता गांव में कोरोना से पीड़ित मरीज मिलने के बाद से बगल के सभी गांव को हाई अलर्ट पर रखा गया है. जीरादेई प्रखंड के हसुआ गांव को पूर्ण रूप से लक डाउन कर लोगों को घरों में रहने के लिए बाध्य कर दिया गया है. गांव में जाने वाली सभी सड़कों को सील कर पुलिस का पहरा लगा दिया गया हैं. गांव में पुलिस कैम्प कर रही है

email
TwitterFacebookemailemail

हाजीपुर में 2993 लोगों की हुई स्क्रीनिंग, दो संदिग्ध आइसोलेशन में भर्ती

हाजीपुर में 2993 लोगों की स्क्रीनिंग हुई है, वहीं दो संदिग्ध आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. 3114 लोगों को क्वारंटाइन में रखा गया है. इनमें से 60 लोग विदेश से आये हुए हैं. ट्रैकिंग व मॉनीटरिंग कोषांग के अनुसार 2993 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग करायी गयी है. दो लोगों को संदिग्ध मानते हुए आइसोलेशन में रखा गया है.

email
TwitterFacebookemailemail

रोज 17 हजार बन रहा है मास्क

कोरोना के खिलाफ जंग के समय पूरे राज्य में मास्क की भारी जरूरत पड़ गयी है. इस समय बाजार में मास्क की उतनी उपलब्धता नहीं हो पा रही. ऐसे में जीविका की दीदियों ने मास्क बनाने का काम शुरू किया है़ वर्तमान में पूरे राज्य में लगभग पांच सौ दीदियों ने मास्क बनाने का काम कर रही हैं. इनमें कई जिलों में घर से मास्क बनाने का काम किया जा रहा है, जबकि कई जिलों मसलन बांका आदि जगहों पर जिला प्रशासन की ओर से एक तय जगह मुहैया करायी गयी है. फिलहाल मास्क बनाने की क्षमता प्रतिदिन बढ़ रही है़ शनिवार तक जीविका का आंकड़ा मानें, तो प्रतिदिन अब 17 हजार मास्क का उत्पादन किया जा रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

मुहल्लों व स्लम बस्तियों को किया जा रहा सैनिटाइज

कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर वार्ड स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है. नगर आयुक्त के निर्देश पर मुहल्लों व स्लम बस्तियों को शत प्रतिशत सैनिटाइज किया जा रहा है. निगम के सभी अंचल क्षेत्रों में चूना-ब्लीचिंग व केमिकल का छिड़काव कराया जा रहा है. इसके साथ ही वार्ड पार्षदों को जिम्मेदारी दी गयी है कि बाहर से आने वाले लोगों पर नजर रखें और लक्ष्ण मिलने पर तत्काल प्रशासन को सूचना दें, ताकि शीघ्र उपचार की प्रक्रिया शुरू की जा सके

email
TwitterFacebookemailemail

राजधानी पटना के सभी थानों में मजदूरों के लिए भोजन का इंतजाम

राजधानी में फंसे मजदूरों के लिए सभी थानों की पुलिस मददगार साबित हो रही है. थानेदारों ने अपने स्तर से कुछ सामाजिक संस्थाओं के संचालकों से बातचीत करके रिलीफ कैंप शुरू कर दिया है. इसमें बाहर के फंसे मजदूरों, लोकल मजदूर जो रोज कमाने और रोज खाने वाले हैं, उनके खाने की व्यवस्था की जा रही है. जो लोग राशन लेना चाहते हैं, उन्हें राशन भी दिया जा रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

पटना एम्स में 54 लोगों की हुई स्क्रीनिंग

बिहार में बढ़ते कोरोना संदिग्ध मरीजों की भीड़ के बीच पटना एम्स से राहत भरी खबर आयी है. पिछले चौबीस घंटे के कोरोना बुलेटिन जारी करते हुए नोडल ऑफिसर डॉ नीरज अग्रवाल के हवाले से बताया गया है कि 28 मार्च की शाम पांच बजे तक एम्स में 54 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी है और आइसोलेशन वार्ड में महज चार मरीज ही कोरोना संदिग्ध पाये गये हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

संक्रमित व्यक्ति के घर से पांच किमी की परिधि में लोगों को कराया जायेगा होम क्वारेंटाइन

कोरोना वायरस के प्रतिदिन मामले बढ़ने के बाद अब जिला प्रशासन ने कड़ा निर्णय लेना शुरू कर दिया है. इसके तहत जिस इलाके में कोरोना संक्रमित व्यक्ति पाये जायेंगे, उसके पांच किमी की परिधि में रहने वाले तमाम लोगों को होम क्वारेंटाइन कराया जायेगा. इससे संबंधित आदेश डीएम कुमार रवि ने कोरोना वायरस के संक्रमण व उसके फैलाव की रोकथाम व होम क्वारेंटाइन की सही व्यवस्था कराने का लेकर आयोजित बैठक में दी.

email
TwitterFacebookemailemail

10 हजार कोरोना चेकिंग किट पहुंचा पटना

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बताया कि 10 हजार कोरोना चेकिंग किट शनिवार की दोपहर पटना पहुंच गया. इन किटों को पुणे से विशेष विमान से यहां लाया गया है. इन जांच किटों को आइजीआइएमएस, पीएमसीएच और डीएमसीएच में पहुंचा दिया गया है. इससे अब कोरोना जांच में किसी तरह की बाधा राज्य के किसी संबंधित मेडिकल कॉलेज में फिलहाल नहीं आयेगी

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें