1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar news express credit personal loan ke nam par stet bank kee 2 shakhaon se 60 lakh ka phrod rdy

एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के नाम पर स्टेट बैंक की दो शाखाओं से 60 लाख का फ्रॉड, जानें कैसे हुआ खुलासा

फ्रॉड अब सीधे बैंकों को जालसाजी का शिकार बना रहे हैं. इसी क्रम में पिछले दिनों स्टेट बैंक की दो ब्रांचों से 60 लाख का लोन स्वीकृत कराकर पैसे लेने में सफल हो गये. लेकिन, जालसाज गोला रोड शाखा में फ्रॉड करने में सफल नहीं हुए.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के नाम पर स्टेट बैंक की दो शाखाओं से 60 लाख का फ्रॉड
एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के नाम पर स्टेट बैंक की दो शाखाओं से 60 लाख का फ्रॉड
प्रतीकात्मक फोटो

सुबोध कुमार नंदन की रिपोर्ट

पटना. फ्रॉड अब सीधे बैंकों को जालसाजी का शिकार बना रहे हैं. इसी क्रम में पिछले दिनों स्टेट बैंक की दो ब्रांचों से 60 लाख का लोन स्वीकृत कराकर पैसे लेने में सफल हो गये. लेकिन, जालसाज गोला रोड शाखा में फ्रॉड करने में सफल नहीं हुए. यहां भी जालसाज ने 20 लाख रुपये के एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के लिए आवदेन दिया था.

इस जालसाजी को खुलासा तब हुआ, जब स्टेट बैंक की गोला रोड शाखा के प्रबंधक ने आवेदक नितिश कुमार श्रीवास्तव के बारे में जांच-पड़ताल की. बैंक सूत्रों के अनुसार स्टेट बैंक की मौर्यालोक शाखा से कुछ दिन पहले जालसाज ने एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के नाम पर 20 लाख रुपये उठाये लिये. इसी तरह जालसाज ने आरके पुरम (दानापुर) ब्रांच से भी एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के नाम पर भी 40 लाख रुपये स्वीकृत करने में सफल हुए.

मिली जानकारी के अनुसार जालसाज नितिश कुमार श्रीवास्तव ने गोला रोड शाखा में भी एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन के लिए आवेदन किया था. जालसाज ने अपने आप को बिजली विभाग का कर्मचारी बताया था. शाखा की ओर से आवेदन स्वीकृत हो चुका था. लेकिन, इस बीच शाखा प्रबंधक को शक होने पर आवेदक के बारे में जांच-पड़ताल के लिए विद्युत बोर्ड गये, तो पता चला कि इस नाम को कोई कर्मचारी नहीं है.

इसके बाद शक और बढ़ गया. इसके बाद आवेदक की ओर से दिये गये बैंक ऑफ इंडिया के खाते की जांच करने पर पता चला की उक्त खाता संख्या और कोई खाताधारक नहीं है. जालसाज ने स्टेट बैंक को बिजली विभाग का सैलरी स्लिप भी दिया था. इसके बाद गोला रोड शाखा प्रबंधक ने जालसाज नितिश कुमार श्रीवास्तव को दस्तावेज पर साइन करने के बहाने उसे शाखा बुलाया और मौके पर रुपसपुर थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल...

अधिकारियों ने बताया कि स्टेट बैंक के एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन को लेकर बैंक की ओर से प्री-सेक्शन सर्वे नहीं कराया जाता है. बैंक में 20 लाख से ऊपर के लोन प्रीमियम लोन माना जाता है. इसी खामी का फायदा अब जालसाज उठा रहे हैं. अधिकारियों की मानें तो पटना में यह गिरोह काफी सक्रिय है. इस संबंध में जब स्टेट बैंक अारएम (पटना वेस्ट) से संपर्क किया गया उनका मोबाइल बार-बार नेटवर्क से बाहर बताया.

मिस कॉल करें

एसबीआइ की एक्सप्रेस पर्सनल लोन फैसिलिटी का फायदा उठाने के लिए ग्राहकों को मिस कॉल करनी होती या मैसेज भेजना होता है. इस फैसिलिटी के तहत कम-से-कम 25 हजार रुपये और अधिकतम 25 लाख रुपये का लोन ल‍िया जा सकता है. इसका नाम है एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन फैसिलिटी.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें