1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar assembly election 2020 know about preparation for first phase voting by election commission in naxal affected areas smb

बिहार चुनाव 2020 : जानिए पहले चरण में नक्सल प्रभावित इलाकों में वोटिंग को लेकर क्या है तैयारी, कब तक कर सकेंगे मतदान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदाताओं को मिलेगा वोट के लिये कम समय
नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदाताओं को मिलेगा वोट के लिये कम समय
प्रभात खबर

Voting In First Phase Of Bihar Assembly Elections 2020 बिहार में कड़ी सुरक्षा इंतजामों के बीच बुधवार को विधानसभा चुनाव 2020 के पहले चरण में 71 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले जायेंगे. निर्वाचन आयोग ने नक्सल प्रभावित इलाकों में प्रथम चरण में ही मतदान कराने की कोशिश की है. इसी के मद्देनजर नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस अलर्ट मोड में है और लगातार सर्च अभियान चलाया जा रहा है. इसके साथ ही मतदान केंद्रों की सुरक्षा का जिम्मा अर्धसैनिक बलों पर रहेगा. नक्सल प्रभावित क्षेत्र में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है. सुरक्षा व्यवस्था के लिए हेलीकाप्टर से भी निगरानी की जायेगी.

मतदान निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराये जाने को लेकर चुनाव आयोग ने व्यापक प्रबंध किये है. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर भी विशेष सतर्कता बरती जा रही है. दिशा निर्देश हैं कि चुनावी गतिविधि में शामिल प्रत्येक व्यक्ति को मास्क पहनना होगा. थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही मतदान केंद्र तक जाने की अनुमति होगी. सभी मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त मात्रा में सेनेटाइजर उपलब्ध रहेगा.

नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदाताओं को मिलेगा वोट के लिये कम समय

प्रथम चरण में भभुआ, सासाराम, औरंगाबाद, गया, नवादा, लखीसराय, मंगेर एवं जमुई जिला के करीब दो दर्जन विधानसभा क्षेत्र अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र हैं. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में वोटिंग के लिये अलग समय निर्धारित किया गया है. विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र चैनपुर, कुटुंबा, नबीनगर और रफीगंज में तीन बजे तक मतदान होगा.

वहीं, कटोरिया, बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, मसौढ़ी, पालीगंज, चेनारी, सासाराम, काराकाट, गोह, ओबरा, औरंगाबाद, गुरुआ, शेरघाटी, इमामगंज, बाराचट्टी, बोधगया, टिकारी, रजौली, गोबिंदपुर, सिकंदरा, जमुई, झाझा, चकाई में चार बजे तक मतदान कर सकते है.

जबकि, विधानसभा क्षेत्र अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी और मखदुमपुर में शाम पांच बजे तक वोट पड़ेंगे. इन क्षेत्रों में चुनाव आयोग को कोरोना की एडवयाजरी के पालन कराने के साथ ही नक्सलियों के गतिविधियों को रोकने के लिए खास इंतजाम किये है. उल्लेखनीय है कि नक्सली संगठनों द्वारा बीते कई चुनाव में मतदान को बाधा पहुंचाने की कोशिश की गयी है. इसके तहत मतदान केन्द्र को क्षतिग्रस्त करने के साथ ही रास्ते में आईईडी बम लगाने एवं सुरक्षाबलों का निशाना बनाने की घटना को अंजाम दिया जाना शामिल है.

पहले चरण में इन उम्मीदवारों के सियासी भविष्य का फैसला होगा

बता दें कि पहले चरण में महत्वपूर्ण उम्मीदवारों में पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी, पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी, मंत्री प्रेम कुमार, कृष्ण नंदन वर्मा, संतोष कुमार निराला आदि के सियासी भविष्य का भी फैसला होगा. मतदाता सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक अपने मत का प्रयोग कर सकेंगे.

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें