पटना : ‘राजद नेताओं की भाषा याद कर लेते, तो नहीं निकालते मार्च’

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर विपक्षी दल राजद पर जमकर हमला किया है. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और इनकी नयी पीढ़ी ने अपने विरोध में दिखने वाले सम्मानित नेताओं के लिए अब तक जिस तरह की भाषा और शब्दों का प्रयोग किया है, उन्हें अगर याद कर लेते तो महागठबंधन के नेताओं के पैर राजभवन मार्च करने से पहले ही शर्म से थम जाते.
राबड़ी देवी ने कभी बिहार के राज्यपाल को लंगड़ा कहा. कभी ललन सिंह के लिए ऐसे अपशब्द कहे कि उन्हें मानहानि का मुकदमा करना पड़ा. सब लोग जानते हैं कि नीतीश के पेट में दांत का मुहावरा लालू प्रसाद ने गढ़ा है. नयी पीढ़ी के एक राजद नेता मुख्यमंत्री के लिए लगातार अपमानजनक शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं.
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि लालू प्रसाद को चारा घोटाला के चार मामलों में जो सजाएं सुनाई गयी हैं. उसकी आधी अवधि भी जेल में बिताये बिना और बिना किसी ठोस आधार के सिर्फ राजनीति करने के लिए बार-बार जमानत की मांग की जाती है. इसलिए उनकी याचिकाएं खारिज होती हैं.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें