बिहार : सीएम आवास पर तैनात जवान की अपनी ही बंदूक से सीने में लगी गोली

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
हादसा. शनिवार की देर रात की घटना, पीएमसीएच में भर्ती
इनसास से लगी है गोली सिक्किम का रहनेवाला है गोरखा जवान
पटना : सीएम हाउस के बाहर सुरक्षा ड्यूटी कर रहे गोरखा बटालियन के जवान पूजन गुरुंग (38) को शनिवार की देर रात अचानक गोली लग गयी. गोली सीने में लगी है. उन्हें गंभीर हालत में पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है. पीएमसीएच में इलाज के दौरान गोली निकाल ली गयी है.
वहीं, रविवार को पूरे दिन कई तरह की मेडिकल जांच करायी गयी.
घटना की वजह के संदर्भ में समूची तफ्तीश पुलिस करेगी. चिकित्सक यह देखने की कोशिश करते रहे कि गोली कहीं हार्ट को छूकर तो नहीं गयी है. फिलहाल हार्ट सेफ है, लेकिन अगले चौबीस घंटे तक खतरा बना हुआ है. उन्हें आईसीयू में रखा गया है. यह घटना तब हुई जब वह शनिवार की रात सीएम हाउस के बहार ड्यूटी कर रहे थे. इस दौरान उनके ही इनसास गन से गोली चली, जिससे वह जमीन पर गिर पड़े.गोली लगते ही हरकत में आया प्रशासन : घायल गोरखा जवान सिक्किम का मूल निवासी है. वह गोरखा रेजिमेंट का जवान है.
पटना में उनकी सीएम आवास पर ड्यूटी है.
वह राजाबाजार में किराये के मकान में रहते हैं. देर रात हुई इस घटना की जानकारी मिलते ही पूरा प्रशासन सकते में आ गया. मौके पर पुलिस की टीम पहुंच कर जांच में जुट गयी. घटना के बाद जख्मी जवान पूजन गुरुंग को देखने के लिए सभी पुलिस अधिकारी, उनके साथी जवान व परिजन पीएमसीएच पहुंचे थे. परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.
पूजन गुरुंग की हालत गंभीर होने के कारण पीरबहोर पुलिस उनका बयान नहीं ले पायी है. सचिवालय थाने की पुलिस का कहना है कि सबसे पहले उनका बयान लिया जायेगा, तभी यह साफ हो पायेगा कि घटना कैसे हुई है. उसे किसी दूसरे ने गाेली मारी या खुद से गोली मार लिया है या फिर दुर्घटनावश गोली चल गयी है, इसकी जांच पुलिस करेगी. वहीं, सूत्राें कि मानें, तो यह दुर्घटना नहीं है. पूजन स्वयं गोरखा का जवान है, हथियार संभालने व चलाने की बेहतर ट्रेनिंग होती है, बहुत कम चांस हैं कि उनके हाथ में मौजूद बंदूक से गलती से गोली चल जाये, वह भी तब जब उन्हें सीएम आवास की सुरक्षा में लगाया गया हो.
संत्री ने कहा, ड्यूटी खत्म होने के बाद कपड़ा चेंज करते वक्त लगी गोली
गौरखा जवान पूजन गुुरुंग को गोली लगने के बाद जब रात में पीएमसीएच लाया गया तो मौजूद पुलिसवालों से उसने बात की थी. इस दौरान उसने बताया था कि उसकी ड्यूटी संत्री पोस्ट पर थी. रात में करीब 10 बजे ड्यूटी खत्म होने के बाद इनसास गन को टेबल पर रखकर कपड़े बदलने चला गया. इस दौरान कैसे गोली चली पता ही नहीं चल सका. पुलिसवालों का भी कहना है कि गलती से ट्रिगर दब गया व फायर हो गया. फिलहाल पुलिस एक बार और बयान लेगी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें