1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. nawada
  5. state level shooting player kee hatya nahar me mila shav parijanon ka aarop police ne kee pitaee rdy

राज्यस्तरीय शूटिंग के खिलाड़ी की हत्या, नहर में मिला शव, परिजनों का आरोप पुलिस ने की पिटाई

नवादा के कादिरगंज ओपी क्षेत्र के पचंबा रोड स्थित टिकुलिया मोड़ के पास आहर से राज्यस्तरीय शूटिंग रेंज के खिलाड़ी कादिरगंज ओपी क्षेत्र के दलदलहा निवासी विजय चौहान के 18 वर्षीय पुत्र अंशु राज उर्फ पिंटू का शव मिला.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतक तस्वीर
सांकेतक तस्वीर
सोशल मीडिया

नवादा के कादिरगंज ओपी क्षेत्र के पचंबा रोड स्थित टिकुलिया मोड़ के पास आहर से राज्यस्तरीय शूटिंग रेंज के खिलाड़ी कादिरगंज ओपी क्षेत्र के दलदलहा निवासी विजय चौहान के 18 वर्षीय पुत्र अंशु राज उर्फ पिंटू का शव मिला. मृत युवक की आंखें फूटी हुई थीं. शरीर पर कई जगहों पर पिटाई के निशान थे. उसकी बहन मीरा कुमारी भी अंतरराष्ट्रीय शूटर रह चुकी हैं और वह नालंदा जिले के कल्याण बिगहा स्थित शूटिंग रेंज ट्रेनिंग सेंटर की प्रभारी के पद पर कार्यरत हैं.

बताया जाता है कि पिंटू पार्ट वन का छात्र था. उसकी परीक्षा चार अक्तूबर से होनेवाली है. शुक्रवार की सुबह घर से एडमिट कार्ड लाने कॉलेज के लिए निकला. इसके बाद उसकी हत्या कर दी गयी. मोबाइल पर रिंग होने के बावजूद रिसीव नहीं होने से परिजनों में चिंता बढ़ गयी. इसके बाद परिवार वाले उसकी खोजबीन में जुट गये. इस बीच, पचंबा रोड स्थित टिकुलिया मोड़ से गांव जाने वाले रास्ते की बगल में एक आहर के समीप उसकी साइकिल व कपड़े मिले.

उस कपड़े में मोबाइल भी रखा था, जो रिंग हो रहा था. अनहोनी की आशंका पर परिजन आसपास बेचैनी से खोजने लगे. इस दौरान शुक्रवार की ही शाम में उसका शव आहर में मिला. उसके शरीर के कई अंग क्षत-विक्षत थे. उसकी आंखें फूटी हुई थीं. चेहरे पर जख्म के निशान पाये गये. परिजन उसकी बेरहमी से पिटाई कर हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं.

वहीं, इस घटना की सूचना जब पुलिस को मिली, तो ओपी पुलिस दल-बल के साथ मौके पर पहुंची. इपरिजनों ने आरोप लगाया कि जांच की मांग पर पुलिस ने उनकी जम कर पिटाई की. देर रात करीब एक बजे पुलिस जबरन शव उठा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल ले आयी. परिजनों ने आरोप लगाया कि उनकी मौजूदगी के बिना ही पोस्टमार्टम कराया गया.

वहीं, दूसरे दिन शनिवार की दोपहर तक परिजन पोस्टमार्टम हाउस के समीप शव लेने से इन्कार करते हुए मामले की उच्चस्तरीय जांच को लेकर अड़े रहे. काफी समझाने-बुझाने के बाद परिजन शव को अंतिम संस्कार के लिए गांव लेकर गये. इधर, सदर एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद ने इस घटना को लेकर कहा कि पिंटू की मौत पानी में डूबने से हुई है. पुलिस पर परिजनों ने मारपीट का गलत आरोप लगाया है. पूरे मामले की जांच की जा रही है.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें