1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. registration of all colleges will be done on national scholarship portal college will verify online applications rdy

नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर होगा सभी कॉलेजों का रजिस्ट्रेशन, इन्हें मिली आवेदनों का सत्यापन करने की जिम्मेदारी

मुजफ्फरपुर बीआरए बिहार विवि के सभी अंगीभूत व संबद्ध कॉलेजों का पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप पोर्टल (पीएमएसपी) पर कराना है. शिक्षा विभाग की ओर से पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के आवेदनों के सत्यापन की जिम्मेदारी कॉलेजों को दी गयी है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के आवेदनों के सत्यापन की जिम्मेदारी कॉलेजों को दी
पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के आवेदनों के सत्यापन की जिम्मेदारी कॉलेजों को दी
Prabhat Khabar

मुजफ्फरपुर बीआरए बिहार विवि के सभी अंगीभूत व संबद्ध कॉलेजों का पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप पोर्टल (पीएमएसपी) पर कराना है. शिक्षा विभाग की ओर से पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के आवेदनों के सत्यापन की जिम्मेदारी कॉलेजों को दी गयी है. इसके लिए पहले कॉलेज का रजिस्ट्रेशन होना जरूरी है. अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलसचिवों को पत्र भेज कॉलेजों को रजिस्ट्रेशन कराने के लिए निर्देश देने को कहा है.

केंद्र व राज्य सरकार के पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप योजना के तहत निर्धारित मानक के आधार पर राज्य के अंदर व बाहर प्रवेशिकोत्तर कक्षा में पढ़ाई कर रहे पिछड़ा वर्ग, अति पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति दी जाती है. इस योजना का लाभ मान्यता प्राप्त कॉलेज व विश्वविद्यालय सहित अन्य शिक्षण संस्थान में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को मिलता है.

शिक्षा विभाग ने एनआइसी के सहयोग से पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए पोर्टल तैयार किया है. वहीं, पात्र छात्र-छात्राओं ने भी स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है. अपर मुख्य सचिव ने कहा है कि ऑनलाइन आवेदनों का सत्यापन कॉलेज स्तर से करना है, जिसके बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी. ऐसे में नवनिर्मित पोर्टल पर प्राथमिकता के आधार पर सभी कॉलेजों का रजिस्ट्रेशन कराना है.

बीआरएबीयू के कार्यक्षेत्र में छह जिलों के कॉलेज

बीआरए बिहार विवि के कार्य क्षेत्र में छह जिलों के कॉलेज हैं. मुजफ्फरपुर के साथ ही शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण और वैशाली जिले में सभी कॉलेज स्थित हैं. 39 अंगीभूत व तीन गवर्मेंट डिग्री कॉलेज है. इसके साथ ही 18 सरकार की ओर से अनुदानित कॉलेज भी है. इन कॉलेजों में पढ़ने वाले पिछड़ा, अति पिछड़ा, अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं को लाभ मिलेगा.

इंतजार कर रहे तीन सत्र के लाखों छात्र

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए मुजफ्फरपुर सहित अन्य जिलों के तीन सत्र के लाखों छात्र इंतजार कर रहे हैं. सत्र 2019-20, 2020-21 व 2021-22 के लिए किये गये आवेदनों का सत्यापन पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप पोर्टल के माध्यम से होगा. छात्रों ने आवेदन की प्रक्रिया पूरी कर ली है. जब तक कॉलेज से सत्यापन नहीं होगा, स्कॉलरशिप का भुगतान नहीं होगा. वहीं, सत्र 2018-19 तक पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप योजना का क्रियान्वयन नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल 2.0 (एनएसपी 2.0) के माध्यम से किया जा रहा है.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें