मुजफ्फरपुर : चमकी बुखार से तीन और बच्चों ने तोड़ा दम, बारिश होते ही अस्पताल में बीमार बच्चों की संख्या घटी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मृत बच्चों में मुजफ्फरपुर के एक व वैशाली के दो
मुजफ्फरपुर : चमकी बुखार का कहर थमने लगा है. रविवार को एसकेएमसीएच व केजरीवाल अस्पताल में इस बीमारी से पीड़ित दो बच्चे भर्ती किये गये. एक बच्ची की मौत हो गयी. तीन वर्षीय रूबी कुमारी एसकेएमसीएच में चार दिनों से भर्ती थी. बीमार बच्चों की घट रही संख्या व मौत को लेकर सिविल सर्जन शैलेश प्रसाद सिंह ने पटना मुख्यालय को जानकारी दी है.
स्वास्थ्य विभाग के वरीय अधिकारियों ने बेहतर मॉनीटरिंग करने का निर्देश दिया. इधर एम्स पटना व दिल्ली के डॉक्टरों के साथ आये शिशु रोग विशेषज्ञ बच्चों को स्वस्थ करने में लगे हैं. वहीं, वैशाली जिले में चमकी बुखार का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है. पिछले 24 घंटे के अंदर इस बीमारी से लालगंज और पातेपुर में दो मासूमों की मौत हो चुकी है. रविवार की सुबह पुरैनिया गांव के श्यामबाबू सहनी की तीन वर्षीया पुत्री संध्या कुमारी की मौत हो गयी. वहीं, पातेपुर प्रखंड की बरडीहा तुर्की पंचायत के वार्ड नंबर एक के अशोक पासवान के आठ वर्षीय पुत्र सचिन कुमार की मौत चमकी बुखार से हो गयी.
पीआइसीयू में 45 बच्चों का चल रहा इलाज : एसकेएमसीएच के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार शाही के अनुसार अभी पीआइसीयू में 45 बच्चों का इलाज चल रहा है. 225 बच्चों को स्वस्थ करके डिस्चार्ज किया जा चुका है. इसके अलावा 39 बच्चों को शिशु वार्ड में शिफ्ट किया जा चुका है, उन्हें सोमवार को डिस्चार्ज कर दिया जायेगा.
सुबह से नहीं आये बच्चे : चमकी बुखार से पीड़ित बच्चे एसकेएमसीएच व केजरीवाल अस्पताल में सुबह दस बजे के बाद नहीं पहुंचे.
बच्चों के नहीं पहुंचने पर डॉक्टरों ने राहत की सांस ली है. इधर अपर सचिव कौशल किशोर दिन भर पटना से एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ सुनील कुमार शाही से बच्चों की बीमारी की रिपोर्ट ले रहे थे. इसके साथ ही प्रधान सचिव संजय कुमार भी चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों की स्थिति की जानकारी ली.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें