1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. munger
  5. during the immersion of durga idol three youths died due to drowning in the ganges river accident rdy

Bihar News: गंगा में तीन युवकों की डूबने से मौत, 3 घंटे की कड़ी मशक्त के बाद गोताखोरों की टीम को मिला शव

मुंगेर में तीन युवक गंगा नदी में डूब गए. तीनों युवक बिंदबारा गांव के रहने वाला है. सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी. घटना के बाद गंगा घाट परिजनों के विलाप से गमगीन हो गया. तीन घंटे की कड़ी मशक्त के बाद रिसुराज कुमार सिंह का शव निकालने में गोताखोरों की टीम कामयाब रही.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
घटनास्थल पर जुटी ग्रामीणों की भीड़
घटनास्थल पर जुटी ग्रामीणों की भीड़
प्रभात खबर

बिहार के मुंगेर से बड़ी खबर सामने आ रही है. दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान बुधवार को कासिम बाजार क्षेत्र के दुमंठा घाट पर तीन युवक गंगा नदी में डूब गए. तीनों युवक बिंदबारा गांव के रहने वाला है. सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी. गंगा घाट परिजनों के विलाप से गमगीन हो गया. इधर स्थानीय गोताखोर की टीम द्वारा घंटों खोज के बाद जब युवकों का शव नहीं मिला तो ग्रामीणों ने एनडीआरएफ की मांग को लेकर मुंगेर-पटना मुख्य मार्ग को जाम कर दिया. तीन घंटे की कड़ी मशक्त के बाद रिसुराज कुमार सिंह का शव निकालने में गोताखोरों की टीम कामयाब रही.

मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुआ हादसा

जानकारी के अनुसार बुधवार को कासिम बाजार थाना क्षेत्र के बिंदवारा गांव से मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन करने गये थे. इसी दौरान सात युवक मां दुर्गा को गंगा में दूर तक गहरे पानी में ले जाने का प्रयास किया. इसी दौरान सभी युवक डूबने लगे. तीन युवक तो खुद तैर कर निकल गये. एक युवक को स्थानीय लोगों ने किसी तरह बाहर निकाल लिया. लेकिन तीन युवक गंगा में डूब गये, जिसमें श्याम सिंह का पुत्र मोनू कुमार, संजय कुमार सिंह का भगना बिट्टू कुमार सिंह एवं बबलू सिंह का पुत्र रिसुराज कुमार सिंह गंगा के गहराई में डूब गया. बिंट्टू सिंह जहां बिहार पुलिस का परीक्षा और दौड़ निकाल चुका है. वहीं मोनू कुमार वेल्ट्रान कंपनी में ऑपरेटर के पद पर तैनात है. जो झारखंड में किसी जिला के किसी विभाग में तैनात है.

परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

सूचना मिलते ही कासिम बाजार थाना पुलिस स्थानीय गोताखोर के साथ पहुंची, जिसके द्वारा तीनों युवकों की खोज लगातार की जा रही है. लेकिन जब अपराह्न 2 बजे तक स्थानीय गोताखोर किसी को नहीं खोज पाया तो आक्रोशित ग्रामीणों ने मुंगेर-पटना मुख्य मार्ग को दुमंठा घाट के सामने बांस लगा कर जाम कर दिया. जिसके कारण घंटों इस मार्ग पर बाधित रहा. तीन घंटे बाद रिसुराज कुमार का शव गोताखोर की टीम निकालने में सफल रहा. शव निकलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. शव से लिपट कर परिजन विलाप करने लगे. जबकि जिन युवकों का शव नहीं निकल पाया था उसके परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था. परिजनों के विलाप से गंगा घाट पर माहौल गमगीन हो गया. देर शाम तक दोनों युवकों की खोज में गोताखोर की टीम लगी रही.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें