1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar flood latest live updates flood waters spread in 1059 panchayats of 113 blocks of 14 districts rain realted latets news in hindi bhadh 2020

Bihar Flood Updates: बिहार में बाढ़ से निबटने के लिए एनडीआरएफ की 23 टीमें 14 जिलों में तैनात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बाढ राहत शिविर में अपने खरगोश के साथ बच्चा
बाढ राहत शिविर में अपने खरगोश के साथ बच्चा
प्रभात खबर

Bihar Flood Live Updates: पटना. बिहार में बाढ़ से निबटने के लिए एनडीआरएफ की 23 टीमें राज्य के 14 जिलों में तैनात है. कमाडेंट विजय सिन्हा ने कहा कि सोमवार को सारण, मुजफ्फरपुर, दरभंगा जिले में रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर बाढ़ आपदा में फंसे लोगों सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया. अन्य तैनाती जिलों में एनडीआरएफ की टीमें स्थानीय प्रशासन के साथ बाढ़ वाले इलाके में मोटर बोट से लगातार रेकी कर रही हैं, ताकि आवश्यकता पड़ने पर प्रभावित लोगों को तुरन्त मदद किया जा सके. बाढ़ से संबंधित हर अपडेट जानने के लिए बने रहे हमारे साथ...

email
TwitterFacebookemailemail

बाढ़ आपदा से निबटने में जुटी एनडीआरएफ टीम ने शुरू की रेकी

पटना : बिहार में बाढ़ से निबटने के लिए एनडीआरएफ की 23 टीमें राज्य के 14 जिलों में तैनात है. कमाडेंट विजय सिन्हा ने कहा कि सोमवार को सारण, मुजफ्फरपुर, दरभंगा जिले में रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर बाढ़ आपदा में फंसे लोगों सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया. अन्य तैनाती जिलों में एनडीआरएफ की टीमें स्थानीय प्रशासन के साथ बाढ़ वाले इलाके में मोटर बोट से लगातार रेकी कर रही हैं, ताकि आवश्यकता पड़ने पर प्रभावित लोगों को तुरन्त मदद किया जा सके.

साथ ही सभी टीमें बाढ़ की स्थिति पर भी नजर बनाये हुए है. अब तक बिहार राज्य के बाढ़ प्रभावित सारण, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चपारण, दरभंगा और सुपौल जिलों में प्रशासन के सहयोग से रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर एनडीआरएफ के बचावकर्मियों ने 10,700 से अधिक बाढ़ आपदा में फंसे लोगों को रेस्क्यू करके सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया है.

email
TwitterFacebookemailemail

राज्य के 13 जिले बाढ़ग्रस्त : नीतीश कुमार

पटना : बिहार विधानपरिषद में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बाढ़ से बचाने के लिए जलसंसाधन विभाग कोशिश कर रही है, लेकिन इतनी बारिश हो रही है कि इस बात कोई गारंटी नहीं कि कोशिश कारगर रहे. अगर हम सफल रहे तो ये अच्छी बात होगी. बिहार में अभी 14 जिलों में बाढ़ का प्रकोप है.

email
TwitterFacebookemailemail

बक्सर में अलर्ट जारी

पटना : मौसम विभाग ने बक्सर जिले में अलर्ट जारी किया है. विभाग की ओर से जारी चेतावनी के अनुसार अगले तीन घंटों में जिले में वर्षा और वज्रपात की आशंका है. लोगों को बिना कारण घर से नहीं निकलने की सलाह दी गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

बगहा में तटबंध की मरम्मत हुई

पटना : जल संसाधन विभाग की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि बगहा के पिपरा पिपरासी तटबंध को बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य करा कर सुरक्षित कर लिया गया है. विभाग द्वारा इसकी सतत निगरानी की जा रही है.

email
TwitterFacebookemailemail

सामुदायिक रसोई खोलने का निर्देश

सारण: जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के द्वारा मकेर, अमनौर प्रखण्ड के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया गया और प्रभावित लोगों से मिलकर स्थिति की जानकारी प्राप्त की गई. लोगों को राहत पहुंचाने के कार्य में और तेजी लाने तथा और सामुदायिक रसोई खोलने का निर्देश दिया गया.

email
TwitterFacebookemailemail

बाढ़ राहत केंद्र में संदिग्ध लोगों की हुई जांच

समस्तीपुर: जिलाधिकारी के निर्देशानुसार बिथान के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र सखवा बांध, बाढ़ राहत केंद्र में संदिग्ध लोगों की जांच की गई. साथ ही सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में रैपिड एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है और आरटी पीसीआर हेतु सैंपल लिया जा रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

वाराणसी से एनडीआरएफ की दो टीमें पटना पहुंची

पटना : रविवार को बाढ़ आपदा से निबटने को लेकर वाराणसी से एनडीआरएफ की दो टीमें पटना पहुंची. इसमें एक टीम को समस्तीपुर और दूसरी टीम को वैशाली जिले में तैनात की गयी है. एनडीआरएफ के कमांडेंट विजय सिन्हा ने बताया कि राज्य में बाढ़ आपदा से निबटने के लिए एनडीआरएफ की 23 टीमें 14 जिलों में तैनात की गयी है. इसमें पांच टीमें सारण, तीन टीमें पूर्वी चंपारण, दो-दो टीमें दरभंगा, समस्तीपुर व गोपालगंज और एक-एक टीम कटिहार, किशनगंज, अररिया, सुपौल, मधुबनी, पश्चिम चंपारण, सीवान, वैशाली और मुजफ्फरपुर जिले में तैनात की गयी है. इन जिलों में एनडीआरएफ की ओर से 10 हजार से अधिक लोगों को रेस्क्यू किया गया है.

email
TwitterFacebookemailemail

बांध काटने को लेकर दो गांवों में झड़प

मुजफ्फरपुर-पूसा मार्ग पर महमदपुर में बने पुल पर पानी का दबाव बढ़ता देख महमदपुर कोठी पुल के उत्तर दिशा में बांध काटने का निर्णय लिया. लेकिन इसका ग्रामीणों ने विरोध जताते हुए पथराव कर दिया. महमदपुर व पिलखी के लोंगों के बीच जमकर रोड़ेबाजी हुई. लोगों को उग्र देख कई थानों की पुलिस के साथ एसटीएफ जवानों को बुला लिया गया. प्रशासन ने लाठीचार्ज कर लोगों को खदेड़ दिया. इसमें पिलखी गजपति पंचायत की मुखिया सीता देवी, पैक्स अध्यक्ष प्रज्ञा कुमारी सहित कई को चोट लग गयी. फिर जेसीबी से उत्तर दिशा का बांध काट दिया गया.

email
TwitterFacebookemailemail

नौ लाख से अधिक लोग कर रहे हैं राहत शिविरों में भोजन

आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्र डू ने बताया कि बिहार की विभिन्न नदियों के बढ़े जल स्तर को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग पूरी तरह से सतर्क है. पूर्वी चंपारण में दो, गोपालगंज में 11, खगड़िया में एक और समस्तीपुर में पांच राहत शिविर चलाए जा रहे हैं. इन सभी 19 राहत शिविरों में कुल 26 हजार 734 लोग हैं. उन्होंने बताया कि 1385 कम्युनिटी किचेन चलाये जा रहे हैं, जिनमें प्रतिदिन नौ लाख 29 हजार 465 लोग भोजन कर रहे हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

कोसी नदी के जल स्तर में कमी

राज्य में रविवार को बागमती, महानंदा, कमला, बूढ़ी गंडक और घाघरा नदियों का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर था. वहीं कोसी नदी के जल स्तर में कमी का संकेत था. जल संसाधन विभाग के अनुसार कोसी नदी में रविवार दोपहर 12 बजे एक लाख 73 हजार 215 क्यूसेक व गंडक नदी में एक लाख 83 हजार 400 क्यूसेक जलस्राव प्रवाहित हुआ है. बागमती व महानंदा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर था. सोन नदी में 29 हजार 244 क्यूसेक जलस्राव प्रवाहित हुआ है और इसकी प्रवृत्ति बढ़ने की है. कमला बलान व बूढी गंडक नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर है.

email
TwitterFacebookemailemail

दरभंगा : बागमती व कमला का तटबंध टूटा

दरभंगा. करजापट्टी के पास बिरने गांव में बागमती का पूर्वी तटबंध तीसरी बार टूट गया. वहीं, बेनीपुर में कमला नदी का बांध कन्हौली में ध्वस्त हो गया. इससे आसपास के गांवों में तेजी से पानी प्रवेश कर रहा है. दर्जन भर से अधिक गांव सीधे तौर पर प्रभावित हो गये हैं. हरिपुर ब्राह्मण टोल, राम टोल, मांझी टोल, रामजानकी मंदिर टोल के घरों में पानी घुस गया है. वहीं, शहर में बागमती कहर बरपा रही है. नदी के पूर्वी हिस्से में तेजी से पानी पसर रहा है. रविवार को शिवाजीनगर को डुबोने के बाद पानी सब्जी मंडी, केला गद्दी में प्रवेश कर गया. सुभाष चौक तक पानी पहुंच गया है. जेपी चौक की सड़क पानी में डूब गयी है. दरभंगा टावर की ओर तेजी से पानी बढ़ रहा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें