1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. araria
  5. hundreds of houses merged in river water reached shelter in araria bihar asj

सैकड़ों घर नदी में हुए विलीन, आश्रय स्थल तक पहुंचा पानी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बाढ़ का पानी
बाढ़ का पानी
Prabhat Khabar

सिकटी : मंगलवार की रात से हो रही लगातार वर्षा के कारण नेपाल के जलग्रहण क्षेत्र सहित भारतीय क्षेत्र में वर्षा के कारण प्रखंड क्षेत्र की प्रमुख छोटी, बड़ी नदियों में बाढ़ की स्थिति काफी भयावह हो गयी है जो पुनः एक बार 2017 में आयी विनाशकारी बाढ़ की त्रासदी की याद ताजा कर रही है. प्रखंड के पूर्वी भाग में बहने बाली नदी नूना पूरे उफान पर है.

नूना दहगामा ईदगाह के निकट कटे तटबंध से निकली नयी धारा बन जाने के कारण दहगामा के वार्ड 09 के चार परिवार फजलु, अलाउद्दीन, जैनुद्दीन व फत्ते का पक्का मकान इस नयी धारा में विलीन हो गया. वहीं दहगामा पंचायत के भी कुछ परिवार कटाव से प्रभावित हुए हैं. वहीं दहगामा के माजोद्दीन का घर सहित प्राथमिक विद्यालय इदगाह टोला का भवन नयी धारा के तेज बहाव में कटने के कगार पर है.

इस बाढ़ के कारण पड़रिया पंचायत के सालगोड़ी, कठुआ, कचना, बांसबाड़ी, मोमिन टोला सहित दर्जनों गांव जलमग्न हो गये हैं. जबकि इन गांवों का सड़क संपर्क भांग हो गया है. वहीं सालगोड़ी में सैकड़ों परिवार के घरों में पानी घुस जाने से बुरे हालात हैं. कचना की हालत भी बुरी है. लोगों के घर व आवागमन के रास्ते पर पानी फैल गया है. दहगामा में नूना की निकली नई धारा ने खोरागाछ कठुआ, बगुलाडांगी, शेरशाहबादी महादलित टोला आदि जगहों में जलप्रलय जैसी स्थिति है. पड़रिया का सिकटी से पूरी तरह संपर्क भंग है.

इदगाह टोला दहगामा के लोग तो घर से निकलकर मध्य विद्यालय दहगामा में शरण लिए हुए हैं. जहां विद्यालय के निचले परिसर में भी पानी भरा हुआ है. कुल मिलाकर पूर्वी भाग में नूना नदी के कहर से पड़रिया, दहगामा व खोरागाछ पंचायत के दर्जनों गांव इसके चपेट में हैं. लोगो के घर आंगन में पानी घुसा हुआ है. इदगाह टोला दहगामा के लोग मवि दहगामा मे शरण लिए हुए हैं.

सिकटी बिलायती बाड़ी सड़क कई जगह टुट चुकी है. जिससे लोगों का बाहर निकलना मुश्किल है. दहगामा में नूना की नई धारा बन जाने उससे दक्षिण के इलाके में राहत है. क्योंकि नदी अस्सी से नब्बे प्रतिशत पानी इदगाह टोले के निकट सिकटी बिलायती बाड़ी पथ को तोड़कर बह रही है. जिसका प्रभाव सड़क के पश्चिम पार बसे कठुआ, सालगोड़ी, कचना व बांसबाड़ी सहित खोरागाछ के औलाबाड़ी व बगुलाडांगी में ज्यादा पड़ रहा है.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें