1. home Hindi News
  2. religion
  3. shaniwar ko shani dev ke totke upay mantra chalisa aarti shani ka prabhav for financial crisis bad luck tips tricks on saturday smt

Shani Dev Ke Totke: ऑफिस में बॉस या सीनियर से हैं परेशान या आर्थिक संकट व भाग्य का नहीं मिल रहा साथ तो शनिवार को अपनाएं ये टोटके, मिलेगा जबरदस्त लाभ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Shani Dev Ke Totke, Upay, Mantra, Chalisa, Aarti
Shani Dev Ke Totke, Upay, Mantra, Chalisa, Aarti
Prabhat Khabar Graphics

Shani Dev Ke Totke, Upay, Mantra, Chalisa, Aarti: शन‍ि देव को न्याय का देवता माना गया है. वे जितनी जल्‍दी नाराज होते हैं उतनी ही जल्‍दी वह खुश भी. दरअसल, बुरे के लिए बुरा और अच्छे को अच्छा परिणाम देते है. अगर किसी की कुंडली में शन‍ि दोष होता है तो उस व्यक्ति को कई कठिनाईयों से गुजरना पड़ता है. वे कर्मों के आधार पर फल देने के लिए जाने जाते है. ऐसे में आइये जानते हैं शन‍ि देव को प्रसन्न करने के कुछ टोटके...

भाग्य और दफ्तर संबंधी संकट से बचने के टोटके

यदि भाग्‍य आपका किसी भी मामले में साथ नहीं दे रहा है तो शुक्रवार को एक नया ताला खरीद कर लाएं और न ही इसे खुद खोलें न दुकानदार को खोलने दें. रात को इसे अपने सोने के कमरे में रख दें. अब शनिवार को इसमें चाभी लगाएं और क‍िसी मंदिर में रख दें. फिर इसे मुड़कर देखने की भूल न करें. टोटके के अनुसार यदि कोई इस ताला को चाभी से खोलता है तो आपके भाग्‍य का ताला भी खुल जाएगा.

बढ़ते कर्ज या आर्थिक संकट से बचने के टोटके

यदि आप कर्ज के बोझ तले लगातार डूबते जा रहे है या शन‍ि दोष से ग्रसित है तो अपनी परेशान‍ियों को दूर करने के लिए शन‍िवार को शन‍िदेव के अलावा हनुमान जी की पूजा करना न भूलें. साथ ही साथ शाम में मछलियों को दाना भी डालें. इसके अलावा आप चींटियों को आटा भी खिला सकते है. आप अपनी चप्‍पल को किसी निर्धन को दान भी कर सकते हैं. इन टोटकों से यदि आपके दफ्तर में बॉस या कोई सीनियर आपको परेशान कर रहे हैं तो वे भी कम हो जायेंगी तथा आर्थिक समस्याओं से भी निजात मिलेगा.

शनिदेव पूजा विधि

  • शनिवार को सुबह उठकर स्नान करें

  • काले वस्त्र पहनें

  • सुबह या शाम में शनि मंदिर जाएं और शनि देव की प्रतिमा पर जल, तिल या सरसों का तेल चढ़ाएं,

  • इसके अलावा काला वस्त्र, फूल, अक्षत, नैवेद्य आदि उन्हें अर्पित करें

  • शनि आरती, चालिसा और मंत्र पढ़ें

  • पूजा के पश्चात जरूरतमंदों या गरीबों को यथाशक्ति दान करें

शनि मंत्र: ‘ॐ शं शनिश्चराय नम:’

शनि देव की आरती

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी.

सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥

जय जय श्री शनि देव....

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी.

नी लाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥

जय जय श्री शनि देव....

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी.

मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥

जय जय श्री शनि देव....

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी.

लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥

जय जय श्री शनि देव....

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी.

विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥

जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी..

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें