1. home Hindi News
  2. opinion
  3. article by environmentalist himanshu thakkar on prabhat khabar about environmental issues in india srn

प्रकृति के प्रति बदलें द‍ृष्टिकोण

पर्यावरण के बचाव और विकास के मौजूदा स्वरूप को लेकर बहुत भ्रामक स्थिति है. प्रकृति संरक्षण के प्रति समाज जितनी जल्दी जागेगा, उतनी जल्दी हम बदलाव के दुष्प्रभावों से बच पायेंगे.

By संपादकीय
Updated Date
प्रकृति के प्रति बदलें द‍ृष्टिकोण
प्रकृति के प्रति बदलें द‍ृष्टिकोण
प्रभात खबर

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Share Via :
Published Date

अन्य खबरें