Advertisement

simdega

  • Feb 6 2019 8:21PM

सिमडेगा : हत्या  के आरोपी ने एक दिन बाद थाने में किया आत्मसमर्पण

सिमडेगा : हत्या  के आरोपी ने एक दिन बाद थाने में किया आत्मसमर्पण
photo pk

।। रविकांत साहू ।।

सिमडेगा : कुरडेग थाना क्षेत्र के सर्पमुंडा गांव में मंगलवार को हुई हत्याकांड के आरोपी ने बुधवार को थाना में आत्मसमर्पण किया. गांव में पुलिस कैंप कर रही है गांव की स्थिति समान्य हो रही है. गांव छोड़ कर भागे ग्रामीण अब घर वापस लौट रहे हैं. 

 

आगजनी में प्रभावित लोगों को प्रशासन द्वारा अनाज तथा कंबल वितरण किया गया. थाना क्षेत्र के सर्पमुंडा गांव में मंगलवार दिनदहाड़े केरसई निवासी नंदकिशोर  साव की चाकु मार कर हत्या कर दी गयी थी. हत्या की सूचना मिलते ही केरसई से काफी संख्या में उपद्रवी घटना स्थल पर पहुंचे. शव को देख गुस्साये उपद्रवियों ने 7 घरों को जला दिया. घटना के बाद से ही पुलिस गांव पहुंची. पुलिस दो दिनों से गांव में कैंप किये हुए है. 

जानकारी के अनुसार जमीन विवाद के कारण हत्याकांड को अंजाम दिया गया है. केरसई निवासी नंदकिशोर साव  सर्पमुंडा गांव निवासी शरद बैगा से जमीन विवाद चल रहा था. कुछ वर्ष पूर्व में भी शरद बैगा ने नंदकिशोर साव को तीर से मार कर हत्या करने का प्रयास किया था. उक्त मामले में शरद बैगा को जेल भी हुई थी. सजा काटने के बाद वह जेल से छूट कर बाहर आया था. इधर हत्या के आरोप में आज पुलिस के दबाव के कारण शरद बैगा ने आत्मसमर्पण कर दिया.

* अग्निाकांड से प्रभावित लोगों को सहायता दी गयी

सर्पमुंडा गांव में अग्निकांड से प्रभावित लोगों को प्रशासन द्वारा सहायता प्रदान की गयी.  7 घर के लोगों में सेलेस्टिन एक्का,  प्रफुल मिंज, मिखेल मिंज, नोरबेता मिंज, विजय मिंज, लिबनुस मिंज, लॉरेंस मिंज को एक एक बोरा चावल व 4 - 4 कंबल प्रशासन द्वारा दिया गया है.  पुलिस गांव में ह कर स्थित को पुरी तरह से सामान्य करने में लगी हुई है. घटना के बाद गांव छोड़ कर भाग गये लोग अब गांव लौट आये है. पुलिस गांव में ही कैंप कर रही है. दंडाधिकारी के रूप में प्रखंड  कल्याण पदाधिकारी धर्म दास मिंज गांव में विधि व्यवस्था की देख रेख में लगे है.

Advertisement

Comments

Advertisement