ranchi

  • Dec 15 2019 1:03AM
Advertisement

बुजुर्गों व दिव्यांगों के लिए पोस्टल बैलेट

 रांची : देश में पहली बार 80 साल से ज्यादा आयु के तथा दिव्यांग मतदाता पोस्टल बैलेट के जरिये झारखंड विधानसभा चुनाव में घरों से मतदान करेंगे.  16 दिसंबर को होनेवाले चौथे चरण के चुनाव में पोस्टल बैलेट सुविधा की शुरुआत होगी. 

 
 कोयलांचल और संताल परगना के सात विधानसभा क्षेत्रों में पोस्टल बैलेट की सुविधा दी गयी है. इन विधानसभा क्षेत्रों में पाकुड़, राजमहल, देवघर, गोड्डा, जामताड़ा. बोकारो और धनबाद शामिल हैं. अब तक 1,210 दिव्यांग और 80 साल से ज्यादा आयु के मतदाताओं से उनके घर पर पोस्टल बैलेट से मतदान की प्रक्रिया पूरी करायी जा चुकी है.
 
अब प्रत्याशी  डोर-टू-डोर करेंगे प्रचार: शुक्रवार को सभी 15 विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार का शोर थम  गया. अब चुनाव तक प्रत्याशी केवल डोर-टू-डोर प्रचार करेंगे. चुनाव आयोग ने  रविवार की शाम तक पोलिंग पार्टियों को मतदान केंद्रों  तक पहुंचाना  सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.     
 
आयोग सभी जिला निर्वाची पदाधिकारियों  से सीधे संपर्क में है. सुरक्षा तैयारियों की लगातार मॉनिटरिंग की जा  रही है. 16 दिसंबर को होनेवाले मतदान में कुल 47.85 लाख मतदाता (25.40 लाख पुरुष, 22.44 लाख महिला व 81 थर्ड जेंडर) 221 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे. इस चरण में चार जिलों की कुल 15 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है. 
 
चौथे चरण में चार विधानसभा सीटों पर बूथ ऐप का उपयोग किया जा रहा है. देश में पहली बार झारखंड से बूथ एेप के इस्तेमाल की  शुरुआत की गयी है. प्रायोगिक तौर पर 81 विधानसभा सीटों में से 10 पर बूथ  एेप का उपयोग किया जाना है. अब तक हुए चुनाव में   जमशेदपुर पूर्व, जमशेदपुर पश्चिम, चाईबासा, रामगढ़, हजारीबाग और रांची में बूथ एेप का इस्तेमाल किया गया है. बूथ ऐप से लोग घर बैठे ही मतदान केंद्र पर भीड़ का पता लगा सकते हैं. ऐप से मतदाता पर्ची भी डाउनलोड की जा सकती है.
 
 इन सीटों पर सुबह तीन से पांच बजे तक होगा मतदान
मधुपुर, देवघर, गांडेय, बोकारो, चंदनकियारी,  सिंदरी, निरसा, धनबाद, झरिया  और बाघमारा में सुबह सात से शाम पांच बजे तक  मतदान होगा.
 
इन सीटों पर सुबह सात से दोपहर तीन बजे तक मतदान  
 बगोदर, जमुआ,  गिरिडीह, डुमरी और टुंडी  
इन विधानसभा क्षेत्रों में बूथ एेप का प्रयोग
देवघर,  गांडेय, बोकारो और झरिया  
प्रचार थमा, 15 सीटों पर  चौथे चरण का मतदान कल
 
सात विधानसभा क्षेत्रों 
में 1,210 दिव्यांग व बुजुर्गों ने किया पोस्टल बैलेट से मतदान
47. 85 लाख मतदाता करेंगे 221 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला
 
क्या है पोस्टल बैलेट : पोस्टल बैलेट डाक के माध्यम से मताधिकार का इस्तेमाल करना है. अब तक सरकारी कर्मचारियों व एनआरआइ को ही पोस्टल बैलेट से वोट देने का अधिकार था. झारखंड विधानसभा चुनाव में प्रायोगिक रूप से पहली बार 80 साल से अधिक उम्र के बुर्जुगों  व दिव्यांगों को भी पोस्टल बैलेट से वोट देने का अधिकार मिला है.  ऐसे मतदाता  पोस्टल बैलेट हासिल करने के लिए अपने बीएलओ या निर्वाची पदाधिकारी से संपर्क कर सकते हैं.
 
बूथ ऐप से सुविधा
घर बैठे ही मतदान केंद्र पर भीड़ का पता लगा सकते हैं  
ऐप से मतदाता पर्ची भी डाउनलोड की जा सकती है 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement