Advertisement

ranchi

  • Sep 19 2019 9:11AM
Advertisement

रांची : मंत्री की बैठक में हिस्सा नहीं लेगी मजदूर यूनियन

रांची : कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने गुरुवार को सेंट्रल ट्रेड यूनियन के प्रतिनिधियों की बैठक बुलायी है. इसमें कोल इंडिया के चेयरमैन और निदेशक कार्मिक को भी बुलाया गया है. बैठक में मजदूर यूनियनों द्वारा बुलायी गयी हड़ताल पर विचार करना है.
 
लेकिन बैठक में जाने से मजदूर यूनियनों के प्रतिनिधियों ने इनकार कर दिया है. वहीं, भारतीय मजदूर संघ को छोड़ अन्य ट्रेड यूनियनों ने संयुक्त रूप से 24 सितंबर को हड़ताल की घोषणा की है. जबकि भारतीय मजदूर संघ ने 23 से लेकर 27 सितंबर तक हड़ताल की घोषणा की है. एटक नेता लखन लाल महतो ने बताया कि कोयला मंत्रालय को जानकारी दे दी गयी है कि वार्ता में अगर बीएमएस शामिल होगा, तो बैठक में हिस्सा लेना संभव नहीं है. 
 
संयुक्त मोर्चा ने 24 सितंबर को हड़ताल की नोटिस दी है.  जिसमें इंटक, एटक, सीटू, एचएमएस और एक्टू है. सीटू के आरपी सिंह ने कहा कि बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे. इसकी सूचना दे दी गयी है. इंटक के महासचिव एसक्यू जमा ने कहा कि बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे. कई मुद्दों पर कोयला मंत्रालय को ध्यान आकृष्ट करा दिया गया है. 
 
एफडीआइ वापस होने के बाद ही वार्ता संभव : संघ 
 
अखिल भारतीय खदान मजदूर संघ के मंत्री राजीव रंजन सिंह ने बताया कि कोयला मंत्रालय को बता दिया गया है कि बिना एफडीअाइ वापस लिए वार्ता नहीं हो सकती है. सरकार जिस दिन कोयला उद्योग में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश वापस ले लेगी, उसी दिन वार्ता होगी. संघ ने बताया है कि बिना निर्णय लिये वार्ता से कोई फायदा नहीं है. 23 से 27 सितंबर की हड़ताल हर हाल में सफल होगी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement