Advertisement

patna

  • Mar 14 2019 6:36PM

सीट शेयरिंग पर महागठबंधन में खटपट, नाराज 'मांझी' को तेजस्वी की दो टूक, RJD के पास रहेगी जमुई सीट

सीट शेयरिंग पर महागठबंधन में खटपट, नाराज 'मांझी' को तेजस्वी की दो टूक, RJD के पास रहेगी जमुई सीट
FILE PIC

नयी दिल्ली/पटना : लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बिहार में सीट बंटवारे के मुद्दे पर महागठबंधन में जारी खटपट दूर होता नहीं दिख रहा है. सीट बंटवारे के मुद्दे पर अंतिम रूप से फैसला लेने के लिए महागठबंधन में शामिल घटक दलों के प्रमुख नेता दिल्ली में जुटे है और बैठकों और बातचीत का सिलसिला लगातार जारी है. हालांकि, इस मुद्दे पर अंतिम रूप से कोई ठोस निर्णय अब तक नहीं लिया जा सका है. इन सबके बीच मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हिंदुस्तान अवाम मोरचा के प्रमुख एवंं बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर जारी बातचीत को बीच में ही छोड़कर पटना वापस लौट आये है.

पटना के लिए रवाना होने से पहले दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत में जीतन राम मांझी ने कहा कि महागठबंधन में सीट बंटवारे के मामले में हम अपने स्टैंड पर कायम है. मांझी ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस और राजद के बाद महागठबंधन में ज्यादा सीटें मिलनी चाहिए. बताया जा रहा है कि 16 मार्च को हिंदुस्तान अवाम मोरचा की अहम बैठक पटना में बुलायी गयी है. जिसमें सीट बंटवारे के मुद्दे पर कोई अहम निर्णय लिये जाने की चर्चा है.

वहीं, बताया जा रहा है कि बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव जीतनराम मांझी की पार्टी हम को जमुई संसदीय सीट देने के मूड में नहीं है. चर्चा है कि राजद जमुई सीट से किसी कारोबारी को टिकट देने का मन बना चुकी है. जबकि, जमुई सीट की मांग जीतन राम मांझी कर रहे है.

महागठबंधन में सीटों का बंटवारा : 17 मार्च को हो सकती है घोषणा
नयी दिल्ली : बिहार में महागठबंधन की पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे का फाॅर्मूला बुधवार को 'लगभग तय' हो गया जिसके तहत राजद कम से कम 20 और कांग्रेस 11 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. सूत्रों का कहना है कि सीटों के तालमेल के संदर्भ में आगामी 17 मार्च को पटना में घोषणा की जा सकती है. राजद और कांग्रेस नेताओं की दिल्ली में बुधवार को करीब आठ घंटे की मैराथन बैठक हुई जिसमें सीटों के बंटवारे को लेकर हफ्तों से चले आ रहे गतिरोध को दूर करने पर चर्चा हुई.

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने 'पीटीआई-भाषा' को बताया, ' बैठक में सीटों का बंटवारा लगभय तय हो गया है. राजद की ओर से कांग्रेस के लिए 11 सीटों पर रजामंदी दी गयी है.' उन्होंने कहा, ' महागठबंधन में शामिल सभी पार्टियों को पूरा सम्मान मिलेगा और पूरी संभावना है कि 17 मार्च को सीटों के बंटवारे की घोषणा की जाए.' सूत्रों के मुताबिक, राजद नेता तेजस्वी यादव महागठबंधन में रालोसपा, हम, लोकतांत्रिक जनता दल और मुकेश साहनी की विकासशील इंसान पार्टी को साथ रखना चाहते हैं. वह राज्य में वाम दलों का सीमित आधार होने का तर्क दे कर उन्हें सीटें देने के पक्ष में नहीं हैं. दूसरी तरफ कांग्रेस चाहती है कि एक या दो सीटें देकर वाम दलों को भी महागठबंधन में साथ रखा जाये.

गौरतलब है कि बिहार में 40 लोकसभा सीटें हैं जिनमें से भाजपा ने पिछले लोकसभा चुनाव में 22 सीटें जीती थीं. लोजपा को 6 सीटें मिली थीं, वहीं राजद को मात्र 4 सीटें मिली थीं. जदयू ने 2 सीटें और कांग्रेस ने 2 सीटें जीती थीं.
 

ये भी पढ़ें...शत्रुघ्न सिन्हा का ट्वीट, फिर निशाने पर PM मोदी, कहा- एक नया बेहतर नेतृत्व कार्यभार संभाले
 


Advertisement

Comments

Advertisement