Advertisement

Pathak Ka Patra

  • Sep 16 2019 6:52AM
Advertisement

इसके दूरगामी परिणाम होंगे

रेलवे मंत्रालय ने निर्णय लिया हैं कि वह 400 ऐसी मशीनें लगायेगा, जिनमें प्लास्टिक बोतलें क्रश या रिसाइकल के लिए डालने वाले काे कैशबैक दिया जायेगा या मोबाइल उनका रिचार्ज किया जायेगा. इस फैसले की जितनी तारीफ की जाए, कम हैं.
 
इससे परिसर को साफ रखने में काफी मदद मिलेगी. साथ ही मिनरल वाटर के नाम पर पुरानी बोतलों में साधारण पानी बेचने वालों के गोरखधंधे पर भी लगाम लगेगी. जापान जैसे देशों से हमें काफी कुछ सीखने की जरूरत है, जहां प्लास्टिक देने पर नाश्ता या खाना दिया जाता हैं. 
 
उम्मीद है, स्वच्छता अभियान में ऐसे और फैसले आयेंगे, जो मील का पत्थर साबित होंगे. इसके सफल प्रयोग के बाद से इसे मॉल और बस पड़ावों पर लगाया जाना चाहिए, जिससे हर जगह से प्लास्टिक की बोतलें समाप्त किया जा सकें.
सीमा साही, बोकारो
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement