Advertisement

Others

  • May 25 2019 4:27PM
Advertisement

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने 'शांति मिशन' में योगदान के लिए भारत का किया 'धन्यवाद'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने 'शांति मिशन' में योगदान के लिए भारत का किया 'धन्यवाद'

संयुक्त राष्ट्र : संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने संयुक्त राष्ट्र और उसके शांति मिशनों में योगदान के लिए भारत को ‘धन्यवाद' देते हुए अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बनाये रखने में भारतीय महिलाओं की प्रेरक भूमिका को रेखांकित किया. संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षक अंतरराष्ट्रीय दिवस के अवसर पर ‘मिशन के दौरान शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि' देने के लिए संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन की ओर से शुक्रवार को आयोजित चाय-पार्टी में गुतारेस में कहा कि वर्तमान में दुनियाभर के विभिन्न शांति मिशनों में भारत के करीब 6,400 शांतिरक्षक तैनात हैं.

इसे भी देखें : भारत ने संयुक्त राष्ट्र शांति अभियानों में पारदर्शिता की कमी पर निराशा व्यक्त की

गुतारेस ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के सभी पहलुओं और खास तौर से शांति मिशनों में भारत के महत्वपूर्ण योगदान के लिए मैं भारत को धन्यवाद देता हूं. मैं संयुक्त राष्ट्र के आदर्शों के लिए जीवन बलिदान करने वाले सभी भारतीय शांतिरक्षकों (महिला एवं पुरुष) विशेष रूप से पुरुषों के साहस की प्रशंसा करता हूं. इस कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र के राजदूत, राजनयिक, शांति मिशनों के पुलिस और सैन्य अधिकारी शामिल हुए.

‘नमस्ते' के साथ अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए गुतारेस ने कहा कि भारत संयुक्त राष्ट्र चार्टर और संयुक्त राष्ट्र के मूल्यों के प्रति समर्पण का उदाहरण है. उन्होंने अपने संबोधन का अंत ‘धन्यवाद' देकर किया. गुतारेस ने भारतीय सेना के अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल शैलेश तिनाइकर (57) को दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन का नया फोर्स कमांडर बनाया है. तिनाइकर रवांडा के लेफ्टिनेंट जनरल फ्रैंक कमांजी की जगह लेंगे. कमांजी का कार्यकाल 26 मई को समाप्त हो रहा है. गुतारेस ने शुक्रवार को इस बाबत घोषणा की.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement