Advertisement

national

  • Dec 2 2014 1:25PM
Advertisement

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम एआर अंतुले का निधन, कई नेताओं ने किया दुःख व्यक्त

मुंबई : महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता एआर अंतुले का आज यहां लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया. वह 85 वर्ष के थे. पूर्व मुख्यमंत्री एवं संप्रग-1 सरकार में मंत्री रहे अंतुले गुर्दे की बीमारी से पीडित थे. उन्होंने ब्रीच कैंडी अस्पताल में अंतिम सांस ली, जहां उन्हें पिछले महीने भर्ती कराया गया था.

उनके दामाद मुश्ताक अंतुले ने बताया कि महाराष्ट्र के तटीय कोंकण से ताल्लुक रखने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता का आज सुबह करीब 10 बजे निधन हो गया.
 
9 फरवरी 1929 को महाराष्ट्र के कांकिडी में जन्मे ए आर अंतुले (अब्दुल रहमान अंतुले) ने अपने जीवन की शुरुआत एक सामाजिक कार्यकर्ता के रुप में शुरू की थी. अंतुले 14 वीं लोकसभा में मनमोहन सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री रह चुके हैं. इसके पहले वे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रह चुके थे, किन्तु 13 जनवरी 1982 बांबे हाई कोर्ट  द्वारा एक ट्रस्ट फंड के लिए धमकी देकर पैसा मांगने (जबरन वसूली) के दोषी करार दिये जाने के बाद से उन पर पद से इस्तीफा देने का दबाव बनाया गया और उन्हें पद से इस्तीफा देना पडा. 
 
नवंबर 2008 में हुए मुंबई ब्लास्ट के बाद एक बार फिर वे विवादों में आए, जब उन्होंने मुंबई ब्लास्ट कांड में शहीद हेमंत करकरे के संबंध में विवादास्पद बयान दिया था. हालांकि बाद में इस बात से वे पलट गये थे एवं संसद को बताया कि हमने हेमंत करकरे के संबंध में ऐसा कुछ नहीं कहा है कि किसने उनकी हत्या की है. अंतुल के बयान के कारण बरपे हंगामे के कारण संसद की कार्यवाही भी कई दिन नहीं चल पायी थी. उनका अंतिम संस्कार कल राज्य के रायगढ जिले में उनके पैतृक गांव आम्बेत में होगा.
 
अंतुले के निधन पर कई नेताओं ने दुःख व्यक्त किया
 
एमपीसीसी अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे 
 
महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस समिति (एमपीसीसी) ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री ए. आर. अंतुले को ऐसा दिग्गज नेता करार दिया जिन्होंने अपनी पूरी जिंदगी सार्वजनिक सेवा के लिए समर्पित कर दी थी. 
 
एमपीसीसी के अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने वरिष्ठ नेता के निधन को पार्टी के लिए बडी क्षति बताते हुए कहा कि अंतुले गरीबों, वंचितों और पिछडे तबके के लोगों की समस्याओं को लेकर संवेदनशील थे और समाज में उनको उचित हक दिलाने का प्रयास करते रहे.  उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने उनके कल्याण के लिए कई योजनाएं शुरु कीं जिन्हें आज भी लागू किया जा रहा है.’’   ठाकरे ने कहा कि अंतुले इंदिरा गांधी के वफादार थे और कांग्रेस के प्रतिबद्ध कार्यकर्ता थे. उन्होंने कहा, ‘‘उनके निधन से एक ऐसा स्थान रिक्त हुआ है जिसे भरना कठिन है.’’       
 
सुनील तटकरे 
राकांपा के अध्यक्ष सुनील तटकरे ने अंतुले को दिग्गज नेता बताया जिन्होंने राज्य के सर्वांगीण विकास के लिए काम किया.
 
देवेन्द्र फडणवीस 
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने अंतुले को दिग्गज नेता बताया जिन्होंने लोगों के लिए काम किया. उन्होंने कहा, ‘‘मैं उनके निधन से दुखी हूं.’’   
 
एकनाथ खडसे 
राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे ने कहा कि अंतुले ने समाज के सभी वर्गों के लिए काम किया. उन्होंने कहा, ‘‘वह समग्र विकास के पक्षधर थे.’’   
 
मोहम्मद आरिफ नसीम खान 
कांग्रेस नेता मोहम्मद आरिफ नसीम खान ने कहा कि अंतुले राज्य की राजनीति में एक सम्मानित हस्ती थे. खान ने कहा कि वह याद किए जाएंगे.
 
 
Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement