Advertisement

nalanda

  • Apr 20 2018 1:24AM

तंबाकू सेवन से किशोरों में कैंसर का खतरा

 संगोष्ठी का हुआ आयोजन, शिक्षक व बच्चे हुए शामिल 

 हिलसा (नालंदा)  : देश में कैंसर के लगभग 13 लाख नये रोगियों में साढ़े चार लाख युवा व महिलाएं हैं. बच्चे, किशोरों व युवाओं में तंबाकूजनित बीमािरयां बढ़ रही हैं. आगामी 2030 तक तंबाकूजनित पदार्थों पर रोक नहीं लगी तो मुंह का कैंसर महामारी का रूप ले सकता है. उक्त बातें गुरुवार को शहर के काजी बाजार प्राथमिक विद्यालय के सभागार में गुटखा छोड़ो आंदोलन सह मानव समाज सेवा सभा द्वारा आयोजित संगोष्ठी में समाजसेवियों ने कहीं. वक्ताओं ने किशोरों को तंबाकू सेवन से होनेवाली बीमारियों के बारे में बताया तथा नशा नहीं करने की सलाह दी गयी. 
 
संगोष्ठी में गुटखा छोड़ो आंदोलन सह मानव समाज सेवा सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशुतोष कुमार मानव ने कहा की देश में सभी तरह के सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान प्रतिबंधित है, लेकिन लचर कानून-व्यवस्था के चलते अमल नहीं हो पा रहा है. वहीं, बच्चों के हाथों तंबाकू जन्य पदार्थों की बिक्री करना दंडनीय अपराध है फिर भी धड़ल्ले से दुकानदार छोटे बच्चों को नशीला पदार्थ दे देते हैं. इस मौके पर राजीव रंजन, उषा कुमारी, गुड्डी खातून, सिद्धेश्वरी देवी, रीमा कुमारी, उत्पल कांत कुमार, रेणू देवी, सूरज कुमार, राजा कुमार, साहिल प्रकाश, स्नेहा प्रिया, अभिषेक कुमार, खुशी रानी, प्रियंका कुमारी आदि उपस्थित थे.
 
Advertisement

Comments