Advertisement

Industry

  • Mar 14 2019 5:38PM
Advertisement

संकटग्रस्त Jet Airways को लोन देने के लिए PNB ने रखी शर्त, जानिये...

संकटग्रस्त Jet Airways को लोन देने के लिए PNB ने रखी शर्त, जानिये...

मुंबई : सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने कहा है कि नकदी संकट से जूझ रही निजी क्षेत्र की एयरलाइन जेट एयरवेज को किसी तरह का आपात कोष देने का फैसला वह अकेला नहीं करेगा. इस पर निर्णय बैंकों द्वारा सामूहिक आधार पर किया जायेगा. बैंक ने यह बात ऐसे समय कही है, जबकि इस तरह की खबरें आयी हैं कि पीएनबी ने जेट एयरवेज के लिए 2,050 करोड़ रुपये का आपात कोष मंजूर किया है.

इसे भी देखें : Jet Airways को बचाये रखने के लिए नरेश गोयल ने Etihad से मांगे 750 करोड़ रुपये

कर्जदाता एयरलाइन के लिए सशक्त परियोजना के तहत निपटान योजना पर विचार कर रहे हैं. इससे पहले, जेट एयरवेज ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में स्पष्ट किया था कि उसे पीएनबी से कोई नया कर्ज नहीं मिला है. पीएनबी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील मेहता ने क्या बैंक घाटे में चल रही विमानन कंपनी को अकेले नया कर्ज देने को लेकर विचार करने के सवाल पर कहा कि जेट एयरवेज को और कर्ज देने के बारे में हम सामूहिक रूप से फैसला करेंगे. इस बारे में प्रस्ताव अंशधारकों की भागीदारी के साथ आयेगा. हम इस पर काम कर रहे हैं.

मेहता ने यहां फिक्की-आईबीए के एक कार्यक्रम के मौके पर अलग से बातचीत में यह बात कही. इसी कार्यक्रम में मौजूद बैंक ऑफ इंडिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीनबंधु महापात्रा ने कहा कि बैंक एयरलाइन के लिए निपटान योजना का समर्थन कर रहे हैं. महापात्रा ने कहा कि यदि आप समर्थन नहीं करेंगे, तो मूल्य नष्ट होगा. हमें मूल्य और एयरलाइन को बचाना होगा. जेट एयरवेज पर 8,000 करोड़ रुपये का कर्ज है. उसे मार्च के अंत तक 1,700 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाने की जरूरत है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement