Advertisement

Hockey

  • Sep 11 2019 4:10PM
Advertisement

बेल्जियम दौरे से ओलंपिक क्वालीफायर की तैयारी में मदद मिलेगी : श्रीजेश

बेल्जियम दौरे से ओलंपिक क्वालीफायर की तैयारी में मदद मिलेगी : श्रीजेश
file photo

बेंगलुरू : भारतीय हॉकी टीम को ओलंपिक क्वालीफायर में भले ही रूस जैसी कमोबेश आसान चुनौती मिली हो, लेकिन अनुभवी गोलकीपर पी आर श्रीजेश का मानना है कि किसी भी टीम को हलके में नहीं लिया जा सकता और बेल्जियम दौरे से इस अहम टूर्नामेंट की तैयारी पुख्ता होगी.

विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर काबिज भारत को भुवनेश्वर में नवंबर में होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर में 22वीं रैंकिंग वाली रूस टीम से खेलना है. इससे पहले भारत को 26 सितंबर से तीन अक्टूबर तक विश्व चैम्पियन बेल्जियम का दौरा करना है.

ओलंपिक क्वालीफायर एक और दो नवंबर को खेले जायेंगे. श्रीजेश ने कहा, हर खिलाड़ी का सपना ओलंपिक खेलना होता है. हॉकी में निवेश कर रहे रूस की भी तैयारी पक्की होगी और हमें निश्चित तौर पर उनसे कड़ी चुनौती मिलेगी.

उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ियों ने ओलंपिक क्वालीफायर का लाइव ड्रॉ साथ में देखा और सभी की सांसें थमी हुई थी. उन्होंने कहा, ओलंपिक क्वालीफायर को लेकर इस तरह का रोमांच पैदा करने के लिये लाइव ड्रॉ का एफआईएच का फैसला सही था.

हम सभी ने साथ में बैठकर ड्रॉ देखा. ईमानदारी से हूं तो हमने सभी संभावनाओं पर विचार कर लिया था. यानी हमें पाकिस्तान से या ऑस्ट्रेलिया या मिस्र किससे खेलना पड़ सकता है. मिस्र ने बाद में नाम वापिस ले लिया, लेकिन हम किसी भी टीम से खेलने को तैयार थे.

बेल्जियम दौरे के बारे में उन्होंने कहा, विश्व चैम्पियन बेल्जियम शानदार फार्म में है. उससे खेलना फाइनल इम्तिहान से पहले तैयारी का टेस्ट देने जैसा होगा. उन्होंने कहा, हमने अपने डिफेंस, पेनल्टी कार्नर और गोल करने के मौके बनाने पर काफी मेहनत की है.

उम्मीद है कि हम रणनीति पर अमल कर सकेंगे. तोक्यो में ओलंपिक टेस्ट टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले युवा गोलकीपरों सूरज करकेरा और कृष्ण पाठक से प्रतिस्पर्धा के बारे में श्रीजेश ने कहा, दोनों को अच्छा प्रदर्शन करते देखकर बहुत अच्छा लगा. टीम में प्रतिस्पर्धा होना अच्छा है और मुझे उनके मेंटर की भूमिका निभाने में मजा आ रहा है. इससे मेरे खेल में भी सुधार हो रहा है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement