Advertisement

crime

  • Feb 11 2019 3:22AM

हल्दिया : पांसकुड़ा निवासी दो लोगों की असम में हत्या, गांव में शोक, बंगाली होने के नाम पर हत्या की आशंका

हल्दिया :  पांसकुड़ा निवासी दो लोगों की असम में हत्या, गांव में शोक, बंगाली होने के नाम पर हत्या की आशंका

 हल्दिया :  असम के तिनसुकिया जिले के दूमदाम में शनिवार रात को शेख इदरीस अली (52) और शेख मोहम्मद उर्फ जौहर (43) की छुरा मारकर हत्या कर दी गयी. दोनों ही पूर्व मेदिनीपुर के पांसकुड़ा के रहने वाले थे. इदरीस अली का घर गड़पुरुषोत्तमपुर व जौहर का घर गोपालनगर में है. एक अन्य व्यक्ति शेख सोनू उर्फ मुश्ताक घायल है.

वह रानीहाटी का रहने वाला है. तीनों ही गड़पुरुषोत्तमपुर के शेख हबीबुर नामक ठेकेदार के पास असम के दूमदाम में राजमिस्त्री के तौर पर काम करते थे. डेढ़ महीने पहले इदरीस और जौहर पांसकुड़ा आये थे. इसके बाद वह फिर लौट गये थे. हत्या की सूचना पाकर पांसकुड़ा के दोनों गांवों में शोक व्याप्त हो गया है. खबर पाकर स्थानीय जिला परिषद सदस्य व पूर्व मेदिनीपुर जिला परिषद के खाद्य कार्यध्यक्ष सिराज खान, स्थानीय जनप्रतिनिधि व पुलिस तथा प्रशासन के लोग दोनों के घर पहुंचे.

घायल सोनू के घरवालों के साथ भी उन्होंने बातचीत की. सिराज खान ने बताया कि शवों को घर लौटाने के लिए राज्य के परिवहन व पर्यावरण मंत्री शुभेंदू अधिकारी ने हस्तक्षेप किया है. श्री खान ने कहा कि असम में एनआरसी को लेकर अस्थिरता कायम है. पांसकुड़ा थाने के प्रभारी अजित कुमार झा ने कहा कि तिनसुकिया पुलिस के साथ संपर्क किया गया है.

शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. घायल व्यक्ति की स्थानीय अस्पताल में चिकित्सा की जा रही है. शवों को वापस लाने की सभी व्यवस्था की जा रही है. पुलिस के मुताबिक, खाना बनाते वक्त तीन-चार लोगों के एक दल ने अचानक इदरीस, जौहर और सोनी पर हमला किया था. आरोप है कि उनका बंगाली के तौर पर परिचय हासिल करने के बाद उनपर हमला किया गया.

 

Advertisement

Comments

Advertisement