Advertisement

calcutta

  • May 15 2019 5:27PM
Advertisement

योगी ने ममता बनर्जी को 'बगदादी' से प्रेरित बताया, कहा - तृणमूल के गुंडों ने अमित शाह के रोड शो में किये हमले

योगी ने ममता बनर्जी को 'बगदादी' से प्रेरित बताया, कहा - तृणमूल के गुंडों ने अमित शाह के रोड शो में किये हमले
twitter photo

कोलकाता : उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने पश्चिम बंगाल के  बारासात में एक जनसभा को संबोधित किया. उस दौरान उन्‍होंने बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर हमला किया. जनसभा करने से पहले योगी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया और ममता बनर्जी पर बगदादी से प्रेरित होने का दावा किया.

 

योगी ने ट्वीट में लिखा, 'भाजपा से भयभीत ममता बंगाल में सभाओं के मंच तोड़कर, मजदूरों को पीटकर, रैलियां रद्द करवाकर बंगाल को क्या बनाना चाहती हैं? याद रखिये,बंगाल भारत का अभिन्न अंग है, बगदादी से प्रभावित होकर 'बगदीदी' बनने का आपका सपना भारत मां के सच्चे सपूत वोट की चोट से तोड़कर रहेंगे.

जनसभा को संबोधित करते हुए योगी ने कहा, मुझे ममता दीदी के एक बयान पर सख्‍त ऐतराज है. उन्‍होंने एक झूठ बोलने के लिए झूठ का तानाबाना बुना है. ममता दीदी आपकी तानाशाहीपूर्ण सरकार, गुंडों को प्रश्रय देने वाली सरकार, दंगों को भड़काने वाली सरकार बहुत दिनों की सरकार नहीं है. इसकी एक्‍सपायरी डेट बंगाल की जनता लिखने जा रही है.

अमित शाह की शांतिपूर्ण रोड शो में जिस तरह से तृणमूल के गुंडों ने हमले किये हैं. जिसमें लोकतंत्र में एक नये काले अध्‍याय की शुरुआत की है. याद रखना ये हमला तृणमूल सरकार की अंतिम ताबूत बनने जा रही है. याद रखना तृणमूल के गुंडों को कहीं सिर छुपाने के लिए जगह नहीं मिलेगी.

जिनको तृणमूल की सरकार प्रश्रय दे रही है, वही लोग मूर्ति पूजा को नहीं मानते हैं. ईश्वर चंद्र हम सब के भी महापुरुष हैं, पूरे देश के महापुरुष हैं. हम तो मूर्ति पूजा करते हैं, मूर्ति स्‍थापित करते हैं, मुर्ति को खंडित नहीं करते हैं. क्‍या यह सच नहीं कि जिन गुंडों को आपकी सरकार ने पाल रखा है, ये गुंडे जगह-जगह जाकर मूर्तियों को तोड़ रहे हैं. ममता बनर्जी अपनी कमियों को छुपाने के लिए इश्वर चंद्र विद्यासागर को निशाना बनाया है. लेकिन बंगाल की जनता आपकी इस षड्यंत्र को पूरा नहीं होने देगी. 

मुझे आश्चर्य होता है कि बंगाल के अंदर जय श्री राम के नारे को भी प्रतिबंधित किया गया है. हमारी परंपरा और संस्‍कृति में हमलोग सुबह में जागते हैं तो जय श्री राम बोलते हैं, सोते हैं तो राम-राम बोलते हैं, आपस में मिलते हैं तो राम-राम बोलते हैं. लेकिन एक बंगाल सरकार है जिसने जय श्री राम के नारे को भी बैन कर दिया है. वैसे ममता दीदी को प्रतिबंधित करने में महारत है.

पिछले साल ममता दीदी ने सदियों से चली आ रही दुर्गा पूजा की परंपरा को भी बैन करने की कोशिश की थी. जनसभा को संबोधित करने के बाद योगी ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस किया. योगी ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, बंगाल में अराजकता का नंगा नाच हुआ है. यूपी में छह चरण के चुनाव संपन्‍न हुए, लेकिन एक स्‍थान में भी हिंसा की कोई खबर नहीं आयी, लेकिन बंगाल में चुनाव के दौरान जो व्‍यापक हिंसा हुई है, ये बंगाल की प्रशासनिक व्‍यवस्‍था को कटघरे में खड़ा कर दिया है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement