Advertisement

calcutta

  • Jun 26 2019 2:10AM
Advertisement

किसी को चिढ़ाने के लिए 'जय श्री राम' बोलना धर्म का अपमान : फिरहाद

कोलकाता : जय श्री राम बोलने में कोई अन्याय नहीं है, लेकिन अगर कोई किसी व्यक्ति को चिढ़ाने के लिए जय श्री राम बोल रहा है, तो वह अपने ही धर्म का अपमान कर रहा है, जो नहीं करना चाहिए, यह अन्याय है.

यह कहना राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम का. साॅल्टलेक के उन्नयन भवन में केएमडीए इंजीनियर्स कॉन्फेडरेशन की ओर से आयोजित ग्रीष्मकालीन रक्तदान शिविर के उद्घाटन में उन्होंने कहा कि जय श्री राम, अल्ला हू अकबर, जय मां काली, जय मां दुर्गा बोलने का सबको आजादी है, जो चाहे बोल सकता है लेकिन किसी को चिढ़ाने के लिए बोलना अनुचित है. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement