Advertisement

banka

  • Sep 12 2019 7:00AM
Advertisement

पुराना अस्पताल रहा बंद साफ-सफाई भी नहीं हुई

 बौंसी : रेफरल अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही की वजह से बुधवार को पुराना अस्पताल में मरीज देखने का कार्य आरंभ नहीं हो सका. रेफरल अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डा. जितेंद्र नाथ ने बताया था कि बुधवार से मुख्य बाजार स्थित पुराने अस्पताल को आरंभ किया जायेगा, जहां डा. ऋषिकेश सिन्हा मरीजों का इलाज करेंगे. 

 
ओपीडी का समय सुबह के 10 बजे से दोपहर के एक बजे तक का रखा गया था. बुधवार को जब चिकित्सक नियत समय पर पुराने अस्पताल पहुंचे तो मुख्य गेट बंद था और वहां कोई स्वास्थ्य कर्मी मौजूद नहीं था. साथ ही अस्पताल परिसर की साफ-सफाई भी नहीं हो पायी थी. 
 
मालूम हो कि पुराना अस्पताल परिसर में मल मूत्र बिखरे पड़े हैं, बड़ी-बड़ी झाड़ियों और घास में जहरीले सर्प और बिच्छू नजर आते हैं. ऐसे में सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां मरीज ईलाज कराने आयेंगे या बीमार होकर जायेंगे. रोगी कल्याण समिति के सदस्य राजीव कुमार उर्फ राजू सिंह ने कहा कि ओपीडी आरंभ करने से पहले रेफरल प्रभारी को इस जगह की साफ-सफाई करवा देनी चाहिए. 
 
इस संबंध में पूछे जाने पर रेफरल प्रभारी ने बताया कि वहां काम कर रहे कर्मी के विलंब से आने की वजह से ओपीडी आरंभ नहीं हो पाया. साफ-सफाई के बाद अगले बुधवार से नियत समय पर इसे आरंभ कर दिया जायेगा.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement