1. home Hindi News
  2. national
  3. online class during lockdown mumbai municipal and urdu teachers union started mobile phone library news pwn

ऑनलाइन क्लास करने के लिए बच्चों के पास नहीं थे मोबाइल, शिक्षकों ने कर दी मुफ्त व्यवस्था

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
ऑनलाइन क्लास करने के लिए बच्चों के पास नहीं थे मोबाइल, शिक्षकों ने कर दी मुफ्त व्यवस्था
ऑनलाइन क्लास करने के लिए बच्चों के पास नहीं थे मोबाइल, शिक्षकों ने कर दी मुफ्त व्यवस्था
Twitter

महाराष्ट्र में लॉकडाउन के कारण बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं. उनके लिए ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था की गयी है. पर कई ऐसे छात्र हैं जिनके पास स्मार्टफोन नहीं होने के कारण ऑनलाइन क्लास मं शामिल नहीं हो पा रहे हैं. महाराष्ट्र में ऐसे बच्चों की समस्या को दूर करने के लिए मुंबई म्यूनिसिपल एंड प्राइवेट उर्दू टीचर्स यूनियन ने कक्षा 1-10 के छात्रों के लिए इमामवाड़ा क्षेत्र में एक मुफ्त मोबाइल फोन पुस्तकालय शुरू किया है.

इस मोबाइल फोन लाइब्रेरी में वैसे छात्रों को सुविधा मिल रही है जो छात्र आर्थिक रूप से कमजोर हैं और जो स्मार्टफोन नहीं खरीद सकते हैं. वैसे छात्र भी यहां आकर अब आनलाइन क्लास में शामिल हो रह हैं. आर्थिक रूप से कमजोर छात्र, जो मोबाइल फोन नहीं खरीद सकते थे, वे अब यहां ऑनलाइन कक्षाओं में भाग ले रहे हैं. कक्षा में अब तक 22 छात्र शामिल हो चुके हैं

केंद्र की प्रभारी शाहिना सईद ने बताया कि कुछ छात्रों के पास या तो मोबाइल फोन नहीं थे या उनके परिवार में केवल एक मोबाइल फोन था. तो हमने ऐसा किया. उन्हें ऑनलाइन पढ़ाया गया और उनका सिलेबस पूरा किया जा रहा है. कक्षाएं सुबह 8 से दोपहर 3 बजे तक आयोजित की जाती है. इस दौरान मोबाइल फोन लाइब्रेरी में कोविड-19 से सुरक्षा के लिए जारी किये गये सभी प्रकार के दिशानिर्देशों का पालन किया जाता है.

वहीं एक महीने पहले मुंबई महानगर पालिका ने कहा था कि बीएमसी स्कूलों की मुफ्त ऑनलाइन शिक्षा का लाभ अब राज्य के दूसरे जिलों के विद्यार्थी ले सकेंगे. बीएमसी के ऑनलाइन क्लास में राज्य के दूसरे जिलों के कक्षा एक से लेकर दस तक के छात्र ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे. इसके लिए छात्रों को बीएमसी की वेबसाइट पर दाखिले के लिए आवेदन भरना होगा.

इसके साथ ही सरकार ने कहा था कि जो अभिभावक निजी स्कूलों की फीस भर पाने में सक्षम नहीं है उनके बच्चों के लिए ऑनलाइन क्लास कराने का मौका उपलब्ध कराया जाना चाहिए. बीएमसी के स्कूलों की ओर से महाराष्ट्र बोर्ड, आईसीएसई और सीबीएसई पाठ्यक्रमों वाले विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाया जाता है. इसके लिए जूम, गूगल क्लासरूम व व्हाट्सएप आदि का इस्तेमाल किया जाता है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें