1. home Home
  2. national
  3. congress crisis ghulam nabi azad writes to sonia gandhi seeks urgent meeting of cwc report smb

पंजाब कांग्रेस में संकट के बीच दिग्गज कांग्रेसी हुए सक्रिय, अब गुलाम नबी आजाद ने सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी

Congress Crisis पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की लड़ाई के बाद उपजे सियासी संकट के बीच अब दिग्गज कांग्रेसी सक्रिय हो गए है. दरअसल, पंजाब की तरह कांग्रेस अपने शासन वाले अन्य राज्यों में भी ऐसे संकटों से घिरी हुई है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Sonia Gandhi
Sonia Gandhi
File photo

Congress Crisis पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की लड़ाई के बाद उपजे सियासी संकट के बीच अब दिग्गज कांग्रेसी सक्रिय हो गए है. दरअसल, पंजाब की तरह कांग्रेस अपने शासन वाले अन्य राज्यों में भी ऐसे संकटों से घिरी हुई है. इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है. इसमें उन्होंने जल्द से जल्द कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक बुलाई जाने की मांग की है.

बता दें कि इससे पहले कांगेस के एक और वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने भी यही मांग की है. दरअसल, गुलाम नबी आजाद और कपिल सिबल्ल G-23 के उन नेताओं में शामिल रहे हैं, जिन्होंने पिछले साल कांग्रेस पार्टी में अध्यक्ष पद का चुनाव कराए जाने की मांग की थी. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने पार्टी की स्थिति और अध्यक्ष की अनुपस्थिति पर चर्चा करने का आह्वान करते हुए कहा है कि कांग्रेस में अब कोई निर्वाचित अध्यक्ष नहीं है. हम नहीं जानते कि कौन निर्णय ले रहा है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा कि हम G-23 हैं, निश्चित रूप से जी हुजूर-23 नहीं. हम मुद्दों को उठाते रहेंगे. इससे पहले जी-23 के नेताओं ने पिछले साल सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में व्यापक बदलाव की मांग की थी. वहीं, पार्टी छोड़कर जा रहे नेताओं के मुद्दे को लेकर जी-23 के नेता गुलाम नबी आजाद ने भी सोनिया गांधी को पत्र लिखा है. उन्होंने पंजाब संकट पर सीडब्ल्यूसी के बैठक की मांग की है.

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल की यह टिप्पणी पंजाब में जारी कांग्रेस संकट के बीच आई है. जहां पार्टी के प्रदेश चीफ पद से नवजोत सिंह सिद्धू ने अइस्तीफा दे दिया है. वहीं, हाल के हफ्तों में पार्टी का साथ सुष्मिता देव और गोवा के पूर्व सीएम लुइजिन्हो फलेरियो जैसे नेताओं ने भी छोड़ दिया है. कपिल सिब्बल ने कहा कि मैं वास्तव में बेहद परेशान हूं कि मुझे आपके पास आना है. लेकिन, हमारे पास कोई विकल्प नहीं है. उन्होंने कहा, लोग क्यों जा रहे हैं. हमें यह देखना चाहिए कि क्या यह हमारी गलती है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें