महाराष्ट्र: फ्लोर टेस्ट में उद्धव सरकार पास, 169 विधायकों ने दिया समर्थन, BJP का वॉकआउट

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मुंबई: जबरदस्त सियासी ड्रामे के बाद बनी महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने पहली परीक्षा पास कर ली. आज यानी शनिवार को महाराष्ट्र की विधानसभा में दोपहर दो बजे शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन की उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार शक्ति परीक्षण में बहुमत साबित कर रही है. पढ़ें लाइव अपडेट्स
-फाइनल अपडेटः विश्वासमत के पक्ष में 169 विधायकों ने मतदान किया, एक भी वोट विरोध में नहीं पड़ा , चार ने मतदान नहीं किया, भाजपा के 105 विधायक मतदान के दौरान गैरहाजिर रहे.
- समाजवादी पार्टी के विधायक अबु आजमी ने दी उद्धव सरकार को बधाई.
- बहुमत परीक्षण में कुल 169 वोट उद्धव सरकार के पक्ष में पड़े. विपक्ष में एक भी वोट नहीं पड़ा.
- एमएनएस ने सरकार के पक्ष में वोट नहीं किया, 4 अन्य सदस्यों ने किसी को नहीं दिया वोट
- पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि आजतक कभी भी जब फ्लोर टेस्ट होता है तो पहले रेगुलर स्पीकर की नियुक्ति के बाद होता है. इसलिए नियमों को ताक पर रखकर प्रोटेम स्पीकर चुना और फ्लोर टेस्ट करवाया. नियमों को और संविधान को तोड़ा गया है. संविधान के नियमों को उल्लंघन हुआ है इसलिए राज्यपाल को यह कार्यवाही रद्द करनी चाहिए. हम राज्यपाल के पास जाएंगे और उनको अनियमितता का पत्र देंगे.
- प्रोटेम स्पीकर ने कहा कि जो विश्वास प्रस्ताव के खिलाफ हैं वो बाईं ओर बैठ जाएं जो उसके अनुकूल हैं वो खड़े हो जाएं. जो सदन के सदस्य नहीं है वो खड़े होकर अनुमोदन नहीं कर सकते. हर सदस्य अपना नंबर बताएगा. विधानसभा के सचिव गिनती नोट करेंगे.
- बाहर आकर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने की मीडिया से बात. उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया असंवैधानिक है. प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति गलत तरीके से की गई है.
प्रोटेम स्पीकर ने सभा के सारे दरवाजे बंद करने का आदेश दिया. अब हेड काउंट शुरू हो चुका है
उद्धव सरकार के बहुमत परीक्षण के बीच बीजेपी के सदस्यों ने वॉक आउट किया. बाहर आकर बीजेपी के विधायक नारेबाजी कर रहे हैं. उनका कहना है कि यह सब गलत तरीके से हो रहा है.
- सबसे पहले अशोक चव्हाण ने विश्वास प्रस्ताव पढ़ा. फिर नवाब मलिक ने भी विश्वास प्रस्ताव रखा
- प्रोटेम स्पीकर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि खुला मतदान हो और उसमें लिखा गया है कि प्रोटेम स्पीकर यह कार्यवाही करवाएं. इसलिए मैं आगे की कार्यवाही बढ़ा रहा हूं. फ्लोर टेस्ट बैलेट से नहीं लिया जाएगा यह सुप्रीम कोर्ट का फैसला है. फ्लोर टेस्ट का लाइव टेलीकास्ट भी होगा. अब मैं विश्वास मत पेश करने की कार्यवाही शुरू करता हूं.
- सदन में हो रहा है हंगामा. विपक्ष द्वारा नारेबाजी की जा रही है. नारे लगाए जा रहे हैं कि दादागिरी नहीं चलेगी... नहीं चलेगी.. नहीं चलेगी
- इससे पहले सत्र की शुरुआत होते ही बीजेपी के विधायकों ने यह कहते हुए हंगामा किया कि अधिवेशन नियमों के खिलाफ बुलाया गया है.बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि यह अधिवेशन नियमों और संविधान के खिलाफ बुलाया है. उन्होंने कहा कि यह सदन वंदे मातरम के साथ शुरू होना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.
बहुमत परीक्षण से पहले तीनों दलों ने विप जारी कर दिया है. विधानसभा जाने से पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवाजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस अपने विधायकों के साथ विधानसभा पहुंच चुके हैं. शिवसेना का दावा है कि उसके पास 170 विधायकों का समर्थन है और सदन में वो आसानी से बहुमत साबित कर देगी.
उद्धव सरकार के बहुमत साबित करने, नए अध्यक्ष के चुनाव, विरोधी पक्ष नेता की घोषणा और राज्यपाल के अभिभाषण के लिए विधानसभा की दो दिन की विशेष बैठक बुलाई गई है. शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अस्थायी (प्रोटेम) अध्यक्ष कालिदास कोलंबकर को हटाकर एनसीपी के दिलीप वलसे पाटील को नियुक्त किया गया है. पाटील की निगरानी में ही ठाकरे सरकार अपना बहुमत साबित करेंगे.
बहुमत के लिए 145 विधायकों का समर्थन चाहिए और महा विकास अघाड़ी का दावा है कि उसके पास 170 विधायक हैं. रविवार को विधानसभा के अध्यक्ष का चुनाव होगा और विरोधी पक्ष नेता की घोषणा होगी. रविवार को ही राज्यपाल का अभिभाषण होगा.
वहीं फ्लोर टेस्ट से पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट करके कहा है कि आज बहुमत दिन.. 170+++++ हमको मिटा सके ये जमाने में दम नहीं, हमसे जमाना खुद है... जमाने से हम नहीं. गौरतलब है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने ठाकरे से तीन दिसंबर तक बहुमत साबित करने को कहा है.
महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस ने महा विकास अघाड़ी नाम का गठबंधन बनाया है. शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने गुरुवार की शाम को राज्य के 19वें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें