1. home Hindi News
  2. life and style
  3. netaji subhash chandra bose jayanti 2021 speech essay bhashan images quotes nibandh poem kavita slogan shayari in hindi for students teachers how to write a good speech on netaji subhash chandra bose sry

Subhash Chandra Bose Jayanti 2021 Speech, Essay, Quotes: भारत के एक सच्चे हीरो सुभाष चंद्र बोस जी की जयंती पर यहां से देखें निबंध और शुभकामना भरे संदेश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सुभाष चंद्र बोस जयंती 2021
सुभाष चंद्र बोस जयंती 2021
Prabhat Khabar

Subhash Chandra Bose Jayanti 2021 Per Speech, Parakram Diwas Wishes, Essay, Nibandh, Bhashan, Poem, Kavita, Slogan, Quotes in Hindi: देश की आजादी में अनेक शूरवीरों ने अपना योगदान दिया है, उनमें से एक हैं नेताजी सुभाष चंद्र बोस. नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्म 23 जनवरी 1897 को हुआ और इनका निधन 18 अगस्त 1945 में हुआ था. जब इनकी मृत्यु हुयी तो ये केवल 48 वर्ष के थे. नेताजी 1920 और 1930 के दौरान भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के स्वच्छंदभाव, युवा और कोर नेता थे. यहां से देखें नेताजी पर निबंध

email
TwitterFacebookemailemail

नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना...

नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना

ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना

जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना

खुद के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना

पराक्रम पर्व की शुभकामनाएं...

email
TwitterFacebookemailemail

हौसला बारूद रखते हैं...

हौसला बारूद रखते हैं

वतन के कदमो मे जान मौजूद रखते हैं

हस्ती तक मिटा दे दुशमन की

हम फौजी है फौलादी जिगर रखते हैं

हैप्पी पराक्रम पर्व...

email
TwitterFacebookemailemail

पराक्रम पर्व की शुभकामनाएं...

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें

शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर ले

जिसमे बहकर आज़ादी पहुची थी किनारे पे

देशभक्तों के खून की वो धरा याद कर लें

पराक्रम पर्व की शुभकामनाएं

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 11
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 11
Prabhat Khabar Graphics
email
TwitterFacebookemailemail

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा...

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा

मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लायेगा

मैं रहूं या ना रहूं पर ये वादा है तुमसे मेरा कि

मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा

पराक्रम पर्व की शुभकामनाएं...

email
TwitterFacebookemailemail

Desh Nayak Diwas Status Shayari Message: हौसला बारूद रखते हैं, वतन के कदमों में...

हौसला बारूद रखते हैं

वतन के कदमों में जान मौजूद रखते हैं

हस्ती तक मिटा दे दुशमन की

हम फौजी है फौलादी जिगर रखते हैं

हैप्पी पराक्रम पर्व

email
TwitterFacebookemailemail

नेताजी की जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं: देशभक्तों के खून में प्रेरणा बनकर आग लगाई..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 16
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 16
Prabhat Khabar Graphics

देशभक्तों के खून में प्रेरणा बनकर आग लगाई है,
आजादी के खातिर ही नेताजी ने अपनी जान गवाई है.
बोस जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं

email
TwitterFacebookemailemail

Parakram Diwas Status: नहीं सिर्फ झंडे लहराना, ये काफी नहीं है वतन पर..

नहीं सिर्फ जश्न मनाना,

नहीं सिर्फ झंडे लहराना

ये काफी नहीं है वतन पर,

यादों को नहीं भुलाना

जो कुर्बान हुए

उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना

खुद के लिए नही

ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना

पराक्रम पर्व की शुभकामना

email
TwitterFacebookemailemail

23 January Parakram Diwas Wishes 2021: चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 15
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 15
Prabhat Khabar Graphics

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें

शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर ले

जिसमे बहकर आज़ादी पहुची थी किनारे पे

देशभक्तों के खून की वो धरा याद कर लें

पराक्रम पर्व की शुभकामना

email
TwitterFacebookemailemail

Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti Ki Shubhakamnayen: जब युवा आजादी को अपना लक्ष्य..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 12
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 12
Prabhat Khabar Graphics

वो पराधीनता का दौर था,

जब युवा आजादी को

अपना लक्ष्य मानते थे.

अब देश आजाद है.

अब युवाओ का लक्ष्य

देश की तरक्की होनी चाहिए.

Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti Ki Shubhakamnayen

email
TwitterFacebookemailemail

नेताजी जयंती की शुभकामनाएं: बलिदान का हर भारतीय ताउम्र ऋणी रहेगा..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 11
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 11
Prabhat Khabar Graphics

भारत की आजादी के लिए नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने जो त्याग और बलिदान दिया.

उस बलिदान का हर भारतीय ताउम्र ऋणी रहेगा.

नेताजी जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं

email
TwitterFacebookemailemail

Happy Parakram Diwas: नेताजी ने देश के नाम अपनी जवानी लिखे दिए..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 10
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 10
Prabhat Khabar Graphics

अपने पराक्रम से इक एतिहासिक कहानी लिख दिए,

नेताजी ने देश के नाम अपनी जवानी लिखे दिए.

Happy Parakram Diwas

email
TwitterFacebookemailemail

Subhash Chandra Bose Jayanti 2021: जिस व्यक्ति के अंदर 'सनक' नहीं होती..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 8
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 8
Prabhat Khabar Graphics

जिस व्यक्ति के अंदर 'सनक' नहीं होती

वो कभी महान नहीं बन सकता.

लेकिन उसके अंदर, इसके आलावा भी

कुछ और होना चाहिए

email
TwitterFacebookemailemail

Subhash Chandra Bose Jayanti 2021: नेताजी के चरणों में श्रद्धा के सुमन चढ़ाएं..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 9
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 9
Prabhat Khabar Graphics

नेताजी के चरणों में श्रद्धा के सुमन चढ़ाएं,

आपको पराक्रम दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.

पराक्रम दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

email
TwitterFacebookemailemail

Prakram Diwas 2021 Wishes: आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे...

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 7
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 7
Prabhat Khabar Graphics

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे

शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे

बची हो जो एक बूंद भी लहू की

तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे

पराक्रम पर्व की शुभकामना

email
TwitterFacebookemailemail

Parakram Diwas Shayari Message Quotes Status: करता हूं भारत माता से गुजारिश..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 3
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 3
Prabhat Khabar Graphics

करता हूं भारत माता से गुजारिश

की तेरी भक्ति के सिवा कोई बंदगी ना मिले

हर जन्म मिले हिन्दुस्तान की पावन धरा पर

या कभी जिंदगी न मिले

email
TwitterFacebookemailemail

पराक्रम दिवस की शुभकामनाएं: लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 3
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 3
Prabhat Khabar Graphics

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा

मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लायेगा

मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि

मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा

पराक्रम पर्व की शुभकामना

email
TwitterFacebookemailemail

Subhas Chandra Bose Jayanti Quotes: गुलामी जिन्दा इंसान को भी लाश बना देती है...

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 2
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts 2
Prabhat Khabar Graphics

गुलामी जिन्दा इंसान को भी लाश बना देती है

इसलिए अपनी व्यक्तिगत आजादी और

देश की आजादी के लिए

हमेशा लड़ने के लिए तैयार रहना चाहिए

email
TwitterFacebookemailemail

Parakram Diwas Wishes: भारत माता तेरी गाथा..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts1
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts1
Prabhat Khabar Graphics

भारत माता तेरी गाथा

सबसे ऊँची तेरी शान

तेरे आगे शीश झुकाये

दे तुझको हम सब सम्मान

भारत माता की जय

हैप्पी पराक्रम पर्व

email
TwitterFacebookemailemail

Parakram Diwas Speech: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर मनाया जाता है पराक्रम दिवस..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Prakaram Diwas, Wishes Images Quotes Thoughts
Prabhat Khabar Graphics

केंद्र सरकार ने हाल में ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती यानी हर साल 23 जनवरी को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया था. दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी की जयंती को ‘देश नायक दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की थी. दरअसल, नेताजी सुभाष चंद्र बोस भारत के बहादुर स्वतंत्रता सेनानियों में से एक थे. इनका जन्म आज ही के दिन हुआ था. इनके योगदान से ही भारत आजाद हुआ था. इन्होंने अंग्रेजों को धूल चटाने के लिए अपनी आजाद हिंद फौज नाम की सेना तैयार कर ली थी.

email
TwitterFacebookemailemail

Subhash Chandra Bose Thoughts: भावना के बिना चिंतन असंभव है..

Shubhash Chandra Bose Jayanti, Wishes Images Quotes Thoughts
Shubhash Chandra Bose Jayanti, Wishes Images Quotes Thoughts
Prabhat Khabar Graphics

भावना के बिना चिंतन असंभव है. यदि हमारे पास केवल भावना की पूंजी है तो चिंतन कभी भी फलदायक नहीं हो सकता. बहुत सारे लोग आवश्यकता से अधिक भावुक होते हैं परन्तु वह कुछ सोचना नहीं चाहते'

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस ने कहा था तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा

तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा का नारा देने वाले नेता जी सुभाष चन्द्र बोस ने अपना पूरा जीवन देश को आजादी दिलाने की लड़ाई में जीवन समर्पण कर दिया था. उन्होने जीवन में बहुत संघर्ष किया है ताकी भारत स्वतंत्र हो सके.

email
TwitterFacebookemailemail

अपने माता-पिता की नौवी संतान थे सुभाष चंद्र बोस

23 जनवरी 1897 को उड़ीसा के कटक में एक संपन्न बंगाली परिवार में नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्म हुआ था. उनके पिता का नाम जानकीनाथ बोस और माता जी का नाम प्रभावती देवी था, जिनके कुल 14 बच्चे थे. इसमें से 8 बेटे और 6 बेटियां थी. नेताजी अपने माता-पिता की नौवी संतान और पांचवे बेटे थे.

email
TwitterFacebookemailemail

आजादी की मुहिम में खुद को शामिल किया

शिक्षा के दौरान ही देश को अंग्रेजों से स्वतंत्र करने के लिए देश के कई तत्कालीन दिग्गज स्वतंत्रता सेनानियों के जिंदगी से प्रेरित होकर देश की आजादी की मुहिम में खुद को शामिल किए थे. नेताजी देश को अंग्रेजों से मुक्त कराने के लिए दूसरों से अलग सोच विचार रखते थे और वह अपने ही बलबूते पर देश के युवाओं को शामिल करते हुए आजाद हिंद फौज का गठन भी किया था. 9 भाई बहनों में से नेताजी सुभाष चंद्र बोस मां-बाप की छठी संतान थे. बचपन से ही नेता जी पढ़ाई में काफी होशियार थे और देशभक्ति से काफी प्रेरित हुए थे. देश को स्वतंत्र कराने में उनकी भूमिका को हमेशा याद रखा जाएगा.

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चन्द्र बोस का स्वतन्त्रता आन्दोलन में प्रवेश

सुभाष चन्द्र बोस जी अरविन्द घोष और गाँधी जी के जीवन से बहुत अधिक प्रभावित थे. सन् 1920 में गाँधी जी ने असहयोग आन्दोलन चलाया हुआ था जिसमें बहुत से लोग अपना-अपना काम छोडकर भाग ले रहे थे. इस आन्दोलन की वजह से लोगों में बहुत उत्साह था। सुभाष चन्द्र बोस जी ने अपनी नौकरी को छोडकर आन्दोलन में भाग लेने का दृढ निश्चय कर लिया था. सन् 1920 के नागपुर अधिवेशन ने उन्हें बहुत प्रभावित किया था। 20 जुलाई , 1921 में सुभाष चन्द्र बोस जी गाँधी जी से पहली बार मिले थे.

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस जयंती शायरी

“हम संघर्षों और उनके समाधानों द्वारा ही आगे बढ़ते हैं”

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस के विचार

“हमारी राह भले ही भयानक और पथरीली हो, हमारी यात्रा चाहे कितनी भी कष्टदायक हो, फिर भी हमें आगे बढ़ना ही है. सफलता का दिन दूर हो सकता है, पर उसका आना अनिवार्य है”

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस पर निबंध

‘नेताजी’ के नाम से विख्यात सुभाष चंद्र बोस एक महान नेता थे जिनके अंदर देश-भक्ति का भाव कूट-कूट कर भरा हुआ था.नेताजी का जन्म सन् 1897 ई॰ के जनवरी माह की तेईस तारीख को एक धनी परिवार में हुआ था । देश को अंग्रेजी दासता से मुक्त कराने का सपना संजोए नेता जी कांग्रेस के सदस्य बन गए. वे गाँधी जी के अहिंसा के मार्ग से पूरी तरह सहमत नहीं थे. ” तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूँगा ” का प्रसिद्‌ध नारा नेता जी द्‌वारा दिया गया था. जर्मनी से पर्याप्त सहयोग न मिल पाने पर नेताजी जापान आए. यहाँ उन्होंने कैप्टन मोहन सिंह एवं रासबिहारी बोस द्‌वारा गठित आजाद हिंदी फौज की कमान सँभाली. वे पुन: जापान की ओर हवाई जहाज से जा रहे थे कि रास्ते में जहाज के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से उनकी मृत्यु हो गई.

email
TwitterFacebookemailemail

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का शुरुआती जीवन

“सुभाष चन्द्र बोस एक महान स्वतंत्रता सेनानी और देशभक्त थे। इनका जन्म एक अमीर हिन्दू कायस्थ परिवार में 23 जनवरी 1897 को कटक में हुआ. ये जानकीनाथ बोस (पिता) और प्रभावती देवी (माता) के पुत्र थे. अपनी माता-पिता के 14 संतानों में से ये 9वीं संतान थे। इन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा कटक से ली जबकि मैट्रिकुलेशन डिग्री कलकत्ता से और बी.ए. की डिग्री कलकत्ता यूनिवर्सिटी (1918 में) से प्राप्त की.

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस के विचार

हमारी राह भले ही भयानक और पथरीली हो ,हमारी यात्रा चाहे कितनी भी कष्टदायक हो , फिर भी हमें आगे बढ़ना ही है ! सफलता का दिन दूर हो सकता है ,पर उसका आना अनिवार्य है

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चन्द्र बोस जयंती पर निबंध

“नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्म 23 जनवरी 1897 को हुआ और इनका निधन 18 अगस्त 1945 में हुआ था. जब इनकी मृत्यु हुयी तो ये केवल 48 वर्ष के थे. वो एक महान भारतीय राष्ट्रवादी नेता थे जिन्होंने ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारत की आजादी के लिये द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान बड़ी हिम्मत से लड़ा था। नेताजी 1920 और 1930 के दौरान भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के स्वच्छंदभाव, युवा और कोर नेता थे. वो 1938 में कांग्रेस अध्यक्ष बने हालांकि 1939 में उन्हें हटा दिया गया था. नेताजी भारत के एक क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने बहुत संघर्ष किया और एक बड़ी भारतीय आबादी को स्वतंत्रता संघर्ष के लिये प्रेरित किया.”

email
TwitterFacebookemailemail

ऐसे हुई थी सुभाष चंद्र बोस की मृत्यु

16 अगस्त 1945 को टोक्यो के लिए निकलने पर ताइहोकु हवाई अड्डे पर नेताजी का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया और स्वतंत्र भारत की अमरता का जयघोष करने वाला, भारत मां का दुलारा सदा के लिए, राष्ट्रप्रेम की दिव्य ज्योति जलाकर अमर हो गया.

email
TwitterFacebookemailemail

Subhas Chandra Bose Birthday Quotes

गुलामी जिन्दा इंसान को भी लाश बना देती है इसलिए अपनी व्यक्तिगत आजादी और देश की आजादी के लिए हमेशा लड़ने के लिए तैयार रहना चाहिए

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस के विचार

“अपनी ताकत में विश्वास करो उधार की ताकत आपके लिए घातक हो सकती है”

email
TwitterFacebookemailemail

नेताजी ने कहा था आप मुझे खून दो, मैं आपको आजादी दूंगा

12 सितंबर 1944 को रंगून के जुबली हॉल में शहीद यतीन्द्र दास के स्मृति दिवस पर नेताजी ने अत्यंत मार्मिक भाषण देते हुए कहा- 'अब हमारी आजादी निश्चित है, परंतु आजादी बलिदान मांगती है। आप मुझे खून दो, मैं आपको आजादी दूंगा.'

email
TwitterFacebookemailemail

ऐसे हुआ आजाद हिन्द फौज का गठन

सुभाष ने आजादी के आंदोलन को एक नई राह देते हुए युवाओं को संगठित करने का प्रयास पूरी निष्ठा से शुरू कर दिया। इसकी शुरुआत 4 जुलाई 1943 को सिंगापुर में 'भारतीय स्वाधीनता सम्मेलन' के साथ हुई. 5 जुलाई 1943 को 'आजाद हिन्द फौज' का विधिवत गठन हुआ.

email
TwitterFacebookemailemail

सुभाष चंद्र बोस जयंती पर निबंध

23 जनवरी 1897 का दिन विश्व इतिहास में स्वर्णाक्षरों में अंकित है. इस दिन स्वतंत्रता आंदोलन के महानायक सुभाषचंद्र बोस का जन्म कटक के प्रसिद्ध वकील जानकीनाथ तथा प्रभावतीदेवी के यहां हुआ. उनके पिता ने अंगरेजों के दमनचक्र के विरोध में 'रायबहादुर' की उपाधि लौटा दी। इससे सुभाष के मन में अंगरेजों के प्रति कटुता ने घर कर लिया। अब सुभाष अंगरेजों को भारत से खदेड़ने व भारत को स्वतंत्र कराने का आत्मसंकल्प ले, चल पड़े राष्ट्रकर्म की राह पर. आईसीएस की परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद सुभाष ने आईसीएस से इस्तीफा दिया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें