1. home Hindi News
  2. business
  3. sukanya samriddhi yojana scheme you can open account for your daughters invest and get high interest rate all you need to know rkt

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी के लिए मात्र 250 रूपये लगाकर तैयार करें 5 लाख का फंड, मिलेगा इस रेट पर ब्याज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी के लिए मात्र 250 रूपये लगाकर तैयार करें 5 लाख का फंड
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी के लिए मात्र 250 रूपये लगाकर तैयार करें 5 लाख का फंड
file photo

Sukanya Samriddhi Yojana : लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना जारी है. यह योजना बेटियों के भविष्य के लिए लाभकारी तो है ही, पिता के कथित बोझ और चिंता को भी कम करती है.सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार की एक छोटी बचत योजना है, जो खास तौर पर बच्चियों के लिए बनायी गयी है. यह बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कैंपेन के एक हिस्से के तौर पर लॉन्च की गयी था.

सुकन्या योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) के तहत माता-पिता अपनी बेटी के भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं. सुकन्या समृद्धि योजना सरकार की तरफ से पेश एक लोकप्रिय छोटी बचत योजना है. इस योजना में बच्चियों के जन्म लेने के बाद से लेकर 10 साल की उम्र पूरी होने के पहले तक उनके नाम से बचत खाता शुरू किया जा सकता है. कन्या एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट होने की सूरत में खाते को दूसरी जगह स्थानांतरित करना भी संभव है. जब कन्या की उम्र 18 साल की हो जायेगी, तो जमा राशि का 50 फीसदी राशि शादी या शिक्षा के लिए निकाला जा सकेगा.

सुकन्या योजना में निवेश करके आप बच्ची की शादी और पढ़ाई के खर्च से निश्चिन्त हो सकते हैं. सुकन्या योजना में मौजूदा ब्याज दर 7.6% है और इसकी परिपक्वता अवधि 21 साल और निवेश अवधि 15 साल होती है.सुकन्या अकाउंट खोलने के लिए आपको भारत का निवासी होना चाहिए. एक बार जब बालिका 18 साल की हो जाती है, तो वह खुद खाताधारक बन जाएगी. एसएसवाई खाता खोलने के बाद आप इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक एप प के जरिए घर बैठे ऑनलाइन सब कुछ आसानी से मैनेज कर सकते हैं.

अगर दो बेटियां हैं, तो दोनों के लिए यह खाता खेल सकते हैं, लेकिन दो से अधिक बेटियों के लिए यह नहीं है. एक बच्ची के लिए एक ही एकाउंट खोला जा सकता है. इसमें जमा की गयी रकम पर अभी 7.6% वार्षिक दर से ब्याज मिल रहा है. वैसे सरकार समय-समय पर इससे जुड़ी ब्याज दर की घोषणा करती है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें