38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

IGNOU ने बढ़ाई पंजीकरण की तारीख, अब 15 फरवरी तक छात्र कर सकेंगे री-रजिस्ट्रेशन

जिन स्टूडेंट्स ने इग्नू जनवरी 2024 सेशन के लिए अपना री-रजिस्ट्रेशन अभी तक नहीं किया है वे IGNOU की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रजिस्टर कर सकते हैं. विवि द्वारा जनवरी 2024 सेशन में री रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख बढ़ा दी गई है.

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (IGNOU) ने ऑनलाइन डिस्टैंस लर्निंग (ODL) और ऑनलाइन मोड के लिए री-रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख बढ़ाने का एलान किया है. विभिन्न विषयों में यूजी, पीजी, डिप्लोमा, सर्टिफिकेट कोर्स के लिए अब छात्र 15 फरवरी तक री रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इससे पहले पंजीकरण की आखिरी तारीख 31 जनवरी तक थी. जो स्टूडेंट्स ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन लेना चाहते हैं, वो वेबसाइट ignouadmission.samarth.edu.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.छात्र कला, वाणिज्य, विज्ञान, शिक्षा, प्रबंधन, सामाजिक कार्य, नर्सिंग, कानून, कृषि आदि जैसे विभिन्न विषयों में एडमिशन ले सकते हैं. ऑनलाइन कोर्स में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स https://ignouiop.samarth.edu.in/ पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. इग्नू ने जनवरी 2024 सेशन के लिए ऑनलाइन डिस्टैंस लर्निंग (ODL) और ऑनलाइन कोर्सेस के लिए पुन:पंजीकरण (IGNOU Re-Registration 2024) हेतु अप्लीकेशन विंडो 5 दिसंबर 2023 से ओपेन की है. इसके लिए ऑनलाइन फॉर्म, onlinerr.ignou.ac.in पेज पर उपलब्ध है.

एडमिशन की प्रकिया जारी

इग्नू के क्षेत्रीय निदेशक डॉ अभिलाष नायक ने बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा संचालित किये जा रहे बीए, बीएससी, बीकॉम के साथ विभिन्न स्नातक, परास्नातक, डिप्लोमा, पीजी डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स के 300 से अधिक कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं. पटना सेंटर पर 253 से अधिक कोर्स संचालित किये जा रहे हैं. वहीं, 43 ऑनलाइन कोर्स भी उपलब्ध हैं. उम्मीदवार शुल्क का भुगतान डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग या यूपीआइ के माध्यम से ऑनलाइन कर सकते हैं.

Also Read: कोरोना महामारी के बाद रेलवे का बड़ा फैसला, इस भर्ती के लिए आयु सीमा में 3 साल की छूट का ऐलान
जनवरी सत्र से लागू होगा चार वर्षीय डिग्री कोर्स

इग्नू जनवरी सत्र से ही डिस्टेंस लर्निंग मोड में भी चार वर्षीय डिग्री प्रोग्राम शुरू होगा. यूजीसी ने शैक्षणिक सत्र 2023-24 से सभी विश्वविद्यालयों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू करने का निर्देश दिया है. इसी के तहत इग्नू भी शैक्षणिक सत्र जनवरी 2024 से चार वर्षीय डिग्री प्रोग्राम शुरू करेगा. इसमें ह्यूमैनिटीज, कॉमर्स और साइंस स्ट्रीम के सभी कोर्स को शामिल किया गया है. बीए, बीकॉम, बीएससी मेजर कोर्सेज होंगे. चार वर्षीय डिग्री प्रोग्राम का नाम ह्यूमैनिटीज में बीए -इन-मेजर तो कॉमर्स में बीकॉम इन मेजर और साइंस स्ट्रीम में बीएससी-इन मेजर नाम होगा. छात्र के पास मल्टीपल एंट्री-एग्जिट का विकल्प होगा. एक साल की पढ़ाई में सर्टिफिकेट, दो साल में डिप्लोमा और तीन साल में बीए, बीकॉम या बीएससी इन मेजर की डिग्री मिलेगी. चार वर्षीय डिग्री प्रोग्राम की पढ़ाई 13 भारतीय भाषाओं में करायी जायेगी. इसकी तैयारी इग्नू ने शुरू कर दी है.

Also Read: एग्जाम फीवर से चाहते हैं राहत? इन तरीकों को अपनाकर करें परीक्षा के लिए खुद को तैयार

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें